NDTV Khabar

अखिलेश के 'बंगला विवाद' में कूदे गवर्नर राम नाइक, CM योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगले के विवाद में अब प्रदेश के गवर्नर राम नाइक भी कूद गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अखिलेश के 'बंगला विवाद' में कूदे गवर्नर राम नाइक, CM योगी को लिखा पत्र

गवर्नर राम नाइक ने 'बंगला विवाद' में सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है.

खास बातें

  1. गवर्नर ने कहा- इमारतों की देखरेख का काम टैक्स के पैसे से होता है
  2. सीएम से कहा- जिसने भी ये किया है उस पर कार्रवाई करनी चाहिए
  3. अखिलेश यादव पर सरकारी बंगले को कथित तौर पर नुकसान पहुंचाने का आरोप है
लखनऊ : उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगले के विवाद में अब प्रदेश के गवर्नर राम नाइक भी कूद गए हैं. राम नाइक ने सीएम योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिख कर कहा है कि इन इमारतों की देखरेख का काम टैक्स देने वालों के पैसे से होता है, इसलिए जिसने भी ये किया है उस पर कार्रवाई करनी चाहिए. आपको बता दें कि पिछले दिनों यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगला खाली करने के बाद इस पर विवाद खड़ा हो गया. अखिलेश यादव के बंगले की चाभी जब सरकारी महकमे को मिली तो पता चला कि बंगले में एसी की फिटिंग समेत तमाम चीज़ें उखाड़ी हुईं हैं. इसके बाद अखिलेश के बंगले के अन्दर कथित तौर पर की गयी तोड़फोड़ पर सत्ता पक्ष और विपक्ष में जुबानी जंग तेज हो गयी है. इस पर बीजेपी ने कहा है कि ये समाजवादी पार्टी की कुंठित सोच का नतीजा है. लेकिन समाजवादी पार्टी के लोगों का कहना है कि अखिलेश यादव जिस सरकारी बंगले में किरायेदार थे उसमें उन्होंने अपने परिवार की ज़रूरत और शौक के मुताबिक बहुत तरह की चीज़ें बना रखी थीं. क्योंकि ये सारी चीज़ें सरकारी नहीं थी इसलिए वो अपने साथ ले गए .

यह भी पढ़ें : जिस सरकारी बंगले को छोड़ गये अखिलेश, वहां एसी के पाइप, टाइल्स और स्विच तक उखड़े मिले!

सोशल मीडिया पर जो तस्वीरें वायरल हो रही हैं, उसमें दिख रहा है कि बंगले की टाइल्स उखड़वाई गई हैं. साथ ही एसी समेत कई चीजों को घर से निकाल लिया गया है. यहं तक की बिजली बोर्ड और स्विच भी गायब हैं. बता दें कि अखिलेश यादव ने शनिवार को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित बंगले की चाभियां संपत्ति विभाग को सौप दी हैं. जब राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारी योगेश कुमार शुक्ला से पूछा गया कि सोशल मीडिया पर ऐसी वीडियो क्लिपिंग वायरल हो रही हैं जिनमें दिख रहा है कि बंगले को खाली करने से पहले उसमें काफी तोड़फोड़ की गयी है, इस पर शुक्ला ने जवाब दिया,‘हम बंगले को देखेंगे कि उसे क्या नुकसान पहुंचाया गया है या फिर जो सामान संपत्ति विभाग द्वारा लगवाया गया था उसमें कोई वस्तु कम है उसके बाद ही हम बंगले के स्वामी को नोटिस देंगे.’ इस बीच समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता ने इस वायरल वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि ऐसा पार्टी अध्यक्ष की छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से किया जा रहा है. उप चुनाव में पार्टी की लगातार जीत के बाद विरोधी खेमा ऐसे वीडियो वायरल करा रहा है. इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि ''विपक्षी मकान को 'व्हाइट हाऊस' कह रहे हैं तो क्या वह खुद 'ब्लैक हाऊस’ में रहते हैं.’

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट के नोटिस के बाद सरकारी बंगला छोड़ गेस्ट हाउस में शिफ्ट हुए मुलायम और अखिलेश यादव    

VIDEO: मुलायम और अखिलेश के बाद मायावती ने भी खाली किया सरकारी बंगला



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement