यूपी बस विवाद : कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी को घेरा, बोलीं- ये कैसा क्रूर मजाक है... 

कांग्रेस विधायक ने अपने अगले ट्वीट में कहा, "कोटा में जब उत्तर प्रदेश के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थीं ये तथाकथित बसें, तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए, बार्डर तक ना छोड़ पाई,

यूपी बस विवाद : कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी को घेरा, बोलीं- ये कैसा क्रूर मजाक है... 

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी पार्टी पर उठाए सवाल (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कांग्रेस ने अपनी ही पार्टी को घेरा
  • कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए, बार्डर तक ना छोड़ पाई : MLA
  • सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ की
नई दिल्ली:

मजदूरों के लिए बसें चलवाने को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में जारी जुबानी जंग के बीच कांग्रेस को अपनी ही पार्टी की एक विधायक से तगड़ा झटका मिला है. उत्तर प्रदेश की रायबरेली सदर सीट से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाए हैं. अदिति सिंह ने बुधवार को अपने ट्वीट में लिखा- "आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत, एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई. 

कांग्रेस विधायक ने अपने अगले ट्वीट में कहा, "कोटा में जब उत्तर प्रदेश के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थीं ये तथाकथित बसें, तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए, बार्डर तक ना छोड़ पाई, तब योगी आदित्यनाथ जी ने रातों रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया, खुद राजस्थान के मुख्यमंत्री ने भी इसकी तारीफ की थी."

वहीं, कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adiyanath) सरकार श्रमिकों को उनके गंतव्यों तक भेजने के लिए उसकी ओर से मुहैया कराई जा रही बसों को लेकर घटिया राजनीति कर रही है. पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने यह भी कहा कि ये बसें बुधवार शाम पांच बजे तक राजस्थान से लगी उत्तर प्रदेश सीमा पर खड़ी रहेंगी और उत्तर प्रदेश सरकार को इन्हें जाने की अनुमति देनी चाहिए. 

दरअसल, कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus) के चलते पैदल ही अपने घरों के लिए जा रहे मजदूरों के साथ हो रही दुर्घटनाओं के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्विटर पर वीडियो जारी कर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से कांग्रेस की ओर से 1,000 बसों चलवाने की अनुमति देने की अपील की थी. सरकार ने सोमवार को इसकी मंजूरी दे दी थी. उसके बाद से कांग्रेस और यूपी सरकार में जुबानी जंग जारी है.

वीडियो: प्रवासी मजदूरों के लिए बसों के मुद्दे पर योगी सरकार ने कांग्रेस पर लगाया फर्जीवाड़े का आरोप

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com