NDTV Khabar

UP शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन का PM को खत- सभी मदरसे करें बंद, फैलाई जा रही है ISIS की विचारधारा

रिजवी ने कहा कि मदरसों में छात्रों को निशाना बनाते हुए आंतकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) की विचारधारा को फैलाया जा रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
UP शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन का PM को खत- सभी मदरसे करें बंद, फैलाई जा रही है ISIS की विचारधारा

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी.

खास बातें

  1. UP शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन ने लिखा PM को खत
  2. कहा- देशभर के मदरसे किए जाएं बंद
  3. बोले- फैलाई जा रही है ISIS की विचारधारा
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड (UP Shia Waqf Board) के चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi)ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)को खत लिखकर देशभर के मदरसे बंद करने की बात कही है. रिजवी ने कहा कि मदरसों में छात्रों को निशाना बनाते हुए आंतकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) की विचारधारा को फैलाया जा रहा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो देशभर के आधे से ज्यादा मुसलमान आईएसआईएस की विचारधारा के समर्थक हो जाएंगे. पीएम को लिखे खत में रिजवी ने कहा है, 'पूरी दुनिया में देखा गया है कि कोई भी मिशन चलाने के लिए बच्चों को निशाना बनाया जाता है और इस वक्त आईएसआईएस एक खतरनाक आतंकी संगठन है, जो धीरे-धीरे पूरी दुनिया में मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्रों में पकड़ बना रहा है.'

खत में कहा गया है, 'कश्मीर में बड़ी तादाद में आईएसआईएस के समर्थक खुले तौर पर दिखाई दे रहे हैं. बड़े पैमाने पर मदरसों में इस्लामिक तालीम लेने वाले बच्चों को आर्थिक मदद पहुंचा कर इस्लामिक शिक्षा के नाम पर उन्हें दूसरे धर्मों से काटा जा रहा है और सामान्य शिक्षा से दूर किया जा रहा है.'


वक्फ बोर्ड का आदेश, स्वतंत्रता दिवस पर 'भारत माता की जय' बोलना अनिवार्य होगा

साथ ही उन्होंने कहा है, 'हिन्दुस्तान में ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे प्राथमिक मदरसे चंदे की लालच में हमारे बच्चों का भविष्य खराब करने पर तुले हुए हैं. उनको सामान्य शिक्षा से दूर रखकर इस्लाम के नाम पर कट्टरपंथी सोच पैदा की जा रही है. यह मुसलमान बच्चों के लिए घातक है और साथ ही साथ देश के लिए भी एक बड़ा खतरा है.'

सुन्‍नी मुसलमानों को किराये पर न दी जाय वक्‍फ की संपत्ति : शिया वक्‍फ बोर्ड

इसके अलावा रिजवी ने लिखा है, 'इन सभी परिस्थितियों को देखते हुए देश हित और मुस्लिम बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए हिन्दुस्तान में चल रहे प्राथमिक मदरसों को बंद किया जाना चाहिए. हाईस्कूल पास करने के बाद अगर बच्चा खुद धर्म प्रचार की तरफ जाना चाहता है तो वह मदरसे में दाखिल ले सकता है. मदरसों में प्रवेश हाई स्कूल करने के बाद किए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए.'

वसीम रिजवी ने SC में चांद-सितारे वाले हरे झंडे पर रोक लगाने की अर्जी दी

टिप्पणियां

VIDEO- आतंकी पैदा करते हैं मदरसे ?

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement