NDTV Khabar

नेता ने मंच पर जातिगत टिप्पणी करके जलील किया, दलित अधिकारी ने खुदकुशी कर ली

यूपी के लखीमपुर जिले में भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक के अध्यक्ष राकेश चौहान ने ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार को अपमानित किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नेता ने मंच पर जातिगत टिप्पणी करके जलील किया, दलित अधिकारी ने खुदकुशी कर ली

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. अपमानित होने पर अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार ने आत्महत्या कर ली
  2. सुसाइड नोट में लगाया दो प्रधानों पर परेशान करने का आरोप
  3. चार गिरफ्तार, मुख्य आरोपी राकेश चौहान और श्यामू शुक्ला फरार
लखनऊ:

यूपी के लखीमपुर जिले में किसान यूनियन के एक नेता ने किसान पंचायत के मंच पर एक शेड्यूल्ड कास्ट अफ़सर को इतना ज़लील किया कि उसने खुदकुशी कर ली. किसान नेता ने अफ़सर को जूते मारने और आंख निकल लेने की धमकी दी. और उससे सवाल किया कि क्या तुम्हें आरक्षण से नौकरी मिली है? अपने  सुसाइड नोट में अफ़सर ने इसके लिए नेता को जिम्मेदार ठहराया है. किसान पंचायत के मंच पर किसान नेता ने ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार को ज़लील किया. इस पर उन्होंने आत्महत्या कर ली.

भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक के अध्यक्ष राकेश चौहान ने अधिकारी से कहा कि 'घूस देकर आए हो कि आरक्षण से आए हो? कोरम जिले का पूरा होना चाहिए. कामचोर,नालायक, नकारा, निकम्मे...गरीब किसान मजदूरों को उल्टा परेशान करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को जूते मारकर नौकरी से बाहर किया जाएगा. काम भी नहीं करोगे…नौकरी भी सरकार की लोगे..और उसके बाद जब बात पड़ेगी तो आंखें निकलवाकर सड़क पर फिंकवा दूंगा.'

जितनी देर किसान पंचायत होती रही, ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार को मंच पर खड़ा करके ज़लील किया जाता रहा. अपने सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा है कि 'मुझे किसान यूनियन और कुछ प्रधान बहुत परेशान कर रहे हैं. मुझे गंदी गालियां देते हैं और आरक्षण के खिलाफ बोलते हैं. मैं अब जिंदगी से परेशान हो गया हूं. मेरी मौत के लिए किसान यूनियन के अध्यक्ष और रासूलपुर और देवरिया गांवों के प्रधान जिम्मेदार हैं. मेरे जान दे देने के बाद शायद वे दूसरों को परेशान न करें.'


उत्तराखंड : शादी समारोह में सामने बैठकर खाना खाने पर दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या

लखीमपुर में इस घटना से सरकारी कर्मचारी बहुत खफा हैं. उन्होंने इसके खियाफ धरना-प्रदर्शन भी किया. ग्राम विकास अधिकारी संघ,लखीमपुर के अध्यक्ष विजय शर्मा ने कहा कि दोषियों के विरुद्ध बड़ी से बड़ी कार्रवाई की जाए. उनको अधिक से अधिक सज़ा दी जाए. वही उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा है. और जब तक दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई नहीं की जाती, उन्हें जेल नहीं भेजा जाता, तब तक हम लोग कलमबंद हड़ताल करेंगे.

गुजरात: गरबा आयोजन में शामिल होने पर दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या

इस मामले में पुलिस ने नौ लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है जिनमें से चार गिरफ्तार किए गए हैं, लेकिन त्रिवेंद्र को मंच पर ज़लील करने का आरोपी राकेश चौहान और उसका साथी श्यामू शुक्ला अभी फरार है.

राजस्‍थान : दलित आईएएस अफसर ने लगाया भेदभाव का आरोप, कबूला इस्‍लाम

लखीमपुर की एसपी पूनम ने कहा कि चार अभियुक्त गिरफ्तार हो चुके हैं. बाक़ी की गिरफ्तारी के लिए टीमें बनी हुई हैं. लगातार दबिश जारी है. शीघ्र बाक़ी अभियुक्तों की भी गिरफ्तारी की जाएगी.

VIDEO : सेल्फी से हाजिरी लगाने का विरोध

टिप्पणियां



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement