NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश: बसों में गंदगी देख भड़के मंत्री, खुद ही कर डाली सरकारी बस की धुलाई

उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह वाराणसी में काशी बस डिपो का निरीक्षण करने पहुंचे तो उन्होंने खुद बस की धुलाई कर प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देते हुए अधिकारियों व कर्मियों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया.

427 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश: बसों में गंदगी देख भड़के मंत्री, खुद ही कर डाली सरकारी बस की धुलाई

परिवहन मंत्री ने बस में गंदगी देख खुद ही पाइप से बस की धुलाई कर डाली (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश सरकार में परिवहन मंत्री हैं स्वतंत्रदेव सिंह
  2. वाराणसी में काशी बस डिपो में गंदगी देख भड़के मंत्री
  3. बस में गंदगी देख खुद ही सफाई कर डाली बस की
लखनऊ: सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों पर स्वच्छता को लेकर चल रहे कार्यक्रमों का कोई भी असर नहीं दिखाई दे रहा है. आलम यह हो गया है कि सरकारी कर्मचारियों को सबक देने के मकसद से यूपी के परिवहन मंत्री को खुद ही एक बस की सफाई करनी पड़ी. उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह वाराणसी में एक नए रूप में नजर आए. यहां काशी बस डिपो का निरीक्षण करने पहुंचे मंत्री ने खुद बस की धुलाई कर प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देते हुए अधिकारियों व कर्मियों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया.

पढ़ें:​ जब योगी सरकार के परिवहन मंत्री ने बस में चढ़कर पूछा यात्रियों का हाल-चाल

वाराणसी के दो दिन के दौरे पर आए परिवहन मंत्री सुबह गोलगड्ड स्थित काशी बस डिपो पहुंचे, जहां बसों में फैली गंदगी को देखकर भड़के और बेहद गंदी दिख रही एक बस को खुद हाथों में पानी का पाइप लेकर साफ करने लगे. विभाग के अधिकारी और कर्मियों ने उन्हें रोकना चाहा, लेकिन मंत्रीजी बस के अंदर घुस गए, बस की धुलाई करने में जुट गए. यहां तक कि बस के टायरों को भी पानी से साफ किया. 

परिवहन मंत्री ने डिपो में मौजूद अधिकारियों और कर्मचारियों से साफ-सफाई रखने को कहा. उन्होंने कहा कि सभी चाहें तो रोज एक बस की सफाई का जिम्मा उठा लें. अगर ऐसा हो गया तो हम लोग सरकारी बसों को भी निजी बसों की तरह चमाचम रख सकते हैं. 

उन्होंने कहा, "अगर अब किसी भी बस में अधिक गंदगी मिली, तो फिर चालक जिम्मेदार होंगे. आज मैंने शुरुआत की है, कोशिश करूंगा कि हर महीने एक बस की अपने हाथों से धुलाई करूं. उन्होंने कहा कि प्रत्येक बस कर्मचारी महीने में एक दिन जरूर अपने हाथों से बसों को साफ करें."


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement