NDTV Khabar

दो महीने से मां और बहन की डेडबॉडी के साथ रह रही थी लड़की, दरवाजा खोला तो...

महिला के पिता व पूर्व सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट विजेंद्र श्रीवास्तव की 1990 में मौत हो गई थी. वह अपनी मां और तीन बहनों के साथ घर में रहती थी, जिनमें से एक रूपाली की कुछ साल बाद मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दो महीने से मां और बहन की डेडबॉडी के साथ रह रही थी लड़की, दरवाजा खोला तो...

उप्र : 2 महीनों से शवों के साथ रह रही थी महिला

अयोध्या:

उत्तर प्रदेश के अयोध्या से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, यहां एक महिला अपनी मां और बहन के शवों के साथ दो महीने से अधिक समय से रहती मिली. देवकली पुलिस थाना क्षेत्र की आदर्श नगर कॉलोनी में पड़ोसियों द्वारा एक घर से तेज बदबू आने की शिकायत किए जाने पर गुरुवार को पुलिस को बुलाया गया.

पुलिस ने दरवाजा खोलने पर दीपा को अपनी मां पुष्पा श्रीवास्तव और बहन विभा के मृत शरीर के साथ सोता पाया.

सर्किल अधिकारी अरविंद चौरसिया ने संवाददाताओं को बताया कि दीपा के पिता व पूर्व सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट विजेंद्र श्रीवास्तव की 1990 में मौत हो गई थी. वह अपनी मां और तीन बहनों के साथ घर में रहती थी, जिनमें से एक रूपाली की कुछ साल बाद मौत हो गई.

इसके बाद पुष्पा श्रीवास्तव और उनकी बाकी दो बेटियां, विभा और दीपा मानसिक रूप से बीमार हो गईं. उन्होंने पड़ोसियों के साथ बातचीत करना बंद कर दिया था.


पुष्पा और विभा की मौत लगभग दो महीने पहले हुई थी और दीपा उनके शवों के साथ रह रही थी.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि शव इस हद तक सड़ चुके थे कि हड्डियां दिखाई दे रही थीं, जिसका मतलब है कि दोनों की मौत करीब दो महीने पहले हुई होगी.

मौत के कारण का पता लगाने के लिए शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और दीपा को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है और फिर उसकी स्थिति के आधार पर या तो पागलखाने या फिर आश्रय गृह भेज दिया जाएगा.

उत्तर प्रदेश से जुड़ी और खबरें...

बहुचर्चित गेस्ट हाउस कांड में मायावती ने दी मुलायम के खिलाफ केस वापस लेने की अर्जी

अयोध्या पर फैसले से ठीक पहले CJI रंजन गोगोई आज यूपी के प्रधान सचिव और DGP से मिलेंगे

टिप्पणियां

अयोध्या पर फैसले से पहले अलर्ट पर योगी सरकार, हर जिले में कंट्रोल रूम खोलने के निर्देश, हेलीकॉप्टर भी...

अयोध्या पर फैसले को लेकर हिंदू संगठनों ने नेताओं-कार्यकर्ताओं को नारेबाजी से दूर रहने को कहा, मिठाई बांट सकते हैं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement