NDTV Khabar

यूपी की महिला पुलिसकर्मियों का कारनामा : मजिस्ट्रेट के घर में घुसकर की अपहरण की कोशिश

बरेली में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के घर में घुसकर मारपीट करने और पांच साल के बच्चे के अपहरण की कोशिश के आरोप में एक इंस्पेक्टर समेत दो पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है.

798 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी की महिला पुलिसकर्मियों का कारनामा : मजिस्ट्रेट के घर में घुसकर की अपहरण की कोशिश

यूपी पुलिस के जवान. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. यूपी पुलिस की गुंडागर्दी के किस्से हैं आम
  2. इस बार महिला पुलिसकर्मी पर भी आरोप
  3. मजिस्ट्रेट के घर में अपराध का आरोप
बरेली: पुलिसवालों की गुंडागर्दी के किस्से अब नए नहीं है, लेकिन महिला पुलिसकर्मी न केवल गुंडागर्दी करे बल्कि अपहरण का प्रयास करे, तो जरूर आश्चर्य होगा. इससे से बड़ी बात यह कि इन महिला पुलिसकर्मियों ने मजिस्ट्रेट के झार में घुसकर एक बच्‍चे के अपहरण की कोशिश की. बरेली में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के घर में घुसकर मारपीट करने और पांच साल के बच्चे के अपहरण की कोशिश के आरोप में एक इंस्पेक्टर समेत दो महिला पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है. 

पुलिस अधीक्षक (नगर) रोहित सजवाण ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कुसुमलता राठौर की तहरीर के हवाले से बताया कि वह बुधवार की शाम को न्यायालय से जजेज कॉलोनी स्थित अपने सरकारी आवास पहुंची थी, तभी पीलीभीत थाने में तैनात रह चुकी महिला इंस्पेक्टर अनुपम सिंह और कांस्टेबल लता शर्मा पहुंची और घर में जबरदस्ती घुस गयीं. 

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश पुलिस की गिरफ्त से 10 सालों में 742 कैदी भागे

उन्होंने बताया कि जज का आरोप है कि दोनों पुलिसकर्मियों ने उनके साथ हाथापाई की और गले में पहनी सोने की चेन तोड़कर छीनने की कोशिश की. साथ ही घर में मौजूद पांच वर्षीय बच्चे कुशाग्र के अपहरण की भी कोशिश की. इसके अलावा उनके घर में काम करने वाली महिला जया(19) ने जब बचाव करना चाहा तो उसके साथ मारपीट की और गला दबाकर उसे मारने का प्रयास किया. साथ ही उसे झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी भी दी. 

VIDEO: पुलिस की पिटाई से युवक की मौत


सजवाण ने बताया कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के मुताबिक उन्होंने मौका पाकर कोतवाली पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी इंस्पेक्टर अनुपम सिंह और कांस्टेबल लता शर्मा को पकड़ लिया. जज की तहरीर पर दोनों आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ जानलेवा हमला करने, घर में घुसकर मारपीट करने, हत्या की नीयत से अपहरण की कोशिश, जान से मारने की धमकी देने तथा बंधक बनाने के आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि दोनों महिला पुलिसकर्मियों को तबीयत बिगड़ने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्हें 25 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड में दिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

(इनपुट भाषा से...)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement