NDTV Khabar

यूपीपीएससी पेपर लीक का मामला गरमाया, CM योगी बोले- युवाओं के भविष्य से खेलने वालों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में गड़बड़ी को गंभीरता से लेते हुए रविवार को कहा कि युवाओं के भविष्य से खेलने वालों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपीपीएससी पेपर लीक का मामला गरमाया,  CM योगी बोले- युवाओं के भविष्य से खेलने वालों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा

सीएम योगी आदित्यनाथ.

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में गड़बड़ी को गंभीरता से लेते हुए रविवार को कहा कि युवाओं के भविष्य से खेलने वालों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा. इधर, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश लोकसेवा आयोग द्वारा वर्ष 2017 से अब तक करायी गयी परीक्षाओं की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. योगी ने रविवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि आयोग की परीक्षाओं में गड़बड़ी की शिकायत पर सरकार ने कार्रवाई की है. लोक सेवा आयोग एक स्वायत्त संस्था है और राज्य सरकार उसके कामकाज में हस्तक्षेप नहीं करती, लेकिन परीक्षाओं में किसी भी तरह की गड़बड़ी ना हो, यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है. उन्होंने कहा कि जो लोग युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करेंगे, उन्हें जेल की सलाखों के पीछे भेजा जाएगा. 

UPPSC का पेपर लीक होने के बाद प्रियंका गांधी बोलीं, युवा ठगे जा रहे हैं और सरकार कमीशनखोरी में मस्त है


प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी सरकार के कार्यकाल में आयोग में गलत लोगों की भर्ती हुई जिसकी वजह से धांधली के प्रकरण सामने आ रहे हैं। इस बीच, सपा अध्यक्ष प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश लोकसेवा आयोग द्वारा 2017 से अब तक हुई परीक्षाओं की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि साथ ही परीक्षा नियंत्रक के कार्यकाल की सभी परीक्षाएं निरस्त हों, घोटाले के दोषी सभी अधिकारी बर्खास्त किए जाएं तथा प्रिंटिग प्रेस और अन्य संवेदनशील कार्य यूपीपीएससी के अधीन हों. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपनी गलतियों की सजा नौजवानों को दे रही है. आज नौजवानों ने प्रयागराज में सुभाष चौक पर जब आयोग की धांधलियों के खिलाफ शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करते हुए बूट पालिश की तो प्रशासन ने बौखलाकर उन पर लाठियां बरसाईं और कई युवाओं को हिरासत में ले लिया. 

टिप्पणियां

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं का शेड्यूल जारी, देखें कैलेंडर

मालूम हो कि यूपीपीएससी की एलटी ग्रेड शिक्षकों के 10,768 पदों के लिये पिछले साल 29 जुलाई को हुई परीक्षा का पर्चा एक दिन पहले ही लीक होने के मामले में प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजूलता कटियार को गुरुवार को गिरफ्तार किया था. एसटीएफ की जांच में अंजूलता की नकल माफिया के साथ साठगांठ का खुलासा हुआ है. इस परीक्षा का प्रश्नपत्र कोलकाता के प्रिंटिंग प्रेस के मालिक कौशिक कुमारकर के प्रेस में होनी थी, जिसे पर्चा लीक करने के आरोप में पहले ही डिफॉल्टर घोषित किया जा चुका था. कौशिक के यहां से यूपीपीएससी की होने वाली मुख्य परीक्षा का प्रश्नपत्र भी बरामद हुआ था. इस खुलासे के बाद आयोग ने पीसीएस, एसीएफ और आरएफओ मुख्य परीक्षाओं समेत कुल 10 परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement