NDTV Khabar

चारा खाने से सरकारी गौशाला में 11 गायों, सात बछड़े-बछिया समेत 22 जानवरों की मौत

बदायूं जिले के कछला नगर पंचायत की अस्थायी गौशाला में चारा खाने के बाद 22 गोवंशीय पशुओं की मौत हो गयी तथा 54 अन्य बीमार हो गये.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चारा खाने से सरकारी गौशाला में 11 गायों, सात बछड़े-बछिया समेत 22 जानवरों की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश:

बदायूं जिले के कछला नगर पंचायत की अस्थायी गौशाला में चारा खाने के बाद 22 गोवंशीय पशुओं की मौत हो गयी तथा 54 अन्य बीमार हो गये. जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि नगर पंचायत कछला के अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल में 11 गायों, सात बछड़े और बछिया समेत 22 जानवरों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी. मृत्यु के वास्तविक के कारणों का पता लगाने के लिये भारतीय पशु अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) से विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम बुलायी गयी.

भूमि विवाद से परेशान CRPF के जवान ने दी 'पान सिंह तोमर' बनने की धमकी

उन्होंने बताया कि टीम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पशुओं द्वारा अधिक हरा चारा खाने के कारण उनके शरीर में नाइट्रोजन की मात्रा अधिक हो गयी थी. नाइट्रेट विषाक्तता की वजह से ही उनकी मृत्यु हुई है. जिलाधिकारी ने बताया कि गौशाला के सभी जानवरों को शनिवार रात करीब आठ बजे बाजरे का हरा चारा दिया गया था. मृत सभी जानवरों को दफना दिया गया है. इलाके में पूरी तरह शांति है.


यूपी में प्रियंका गांधी की नई टीम, राज बब्बर की छुट्टी; अजय कुमार लल्लू को बनाया अध्यक्ष

टिप्पणियां

बीमार 54 गोवंशीय पशुओं का इलाज किया जा रहा है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि चारे का नमूना लेकर उसकी जांच कराई जा रही है. इस मामले में गौशाला की देख—रेख करने वाले दो लोगों और चारा आपूर्तिकर्ता को हिरासत में लेकर भी पूछताछ की जा रही है.

Video: भारत में घुसकर जंगल काट रहे नेपाल के लकड़ी तस्कर



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement