Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश के बहराइच में मासूमों की मौत का सिलसिला जारी, 45 दिनों में 71 बच्चों ने तोड़ा दम

उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में एक बार फिर से मौत ने दस्तक दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश के बहराइच में मासूमों की मौत का सिलसिला जारी, 45 दिनों में 71 बच्चों ने तोड़ा दम

बहराइच जिला अस्पताल में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में एक बार फिर से मौत ने दस्तक दी है. उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में बच्चों के मौत के जो आंकड़े सामने आए हैं, वह हैरान करने वाले हैं. दरअसल, बीते कई दिनों से बहराइच के जिला अस्पताल में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है और यह आंकड़ा 70 पार कर चुका है. बहराइच के जिला अस्पताल में बीते 45 दिनों में अब तक 71 बच्चों की मौत हो चुकी है. 

दिल्ली में भूख से 3 बहनों की मौत के केस पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इन्कार,याची से कहा-हाई कोर्ट क्यों नहीं गए

मेडिकल सुपरिटेंडेंट ने कहा ' विभिन्न बीमारियों की वजह से बच्चों की मौतें हुई हैं. हमारे पास 200 बेड हैं मगर अभी 450 मरीज भर्ती हैं. हम कईयों की जिंदगी बचाने के लिए जितना हो सकता है, अपना बेस्ट दे रहे हैं.' 
 


वहीं, उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में पिछले छह सप्ताह से अज्ञात ज्वर से 79 मौतें हो चुकी हैं. राज्य सरकार ने बुधवार को जिला स्तरीय मेडिकल टीमों को सक्रिय निगरानी के निर्देश दिये. 

उत्‍तर प्रदेश: एक हफ्ते मां और उसके दो बच्‍चों की भूख से मौत! सरकार ने कहा- फूड प्वॉइजनिंग थी वजह

टिप्पणियां

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि पिछले डेढ महीने के दौरान सिर्फ अज्ञात ज्वर की वजह से 79 लोगों की जान गयी है. अधिकारियों को सतर्क कर कहा गया है कि वह पूरा एहतियात बरतें. प्रवक्ता ने बताया कि सबसे अधिक 24 मौतें बरेली में हुई. बदायूं में 23, हरदोई में 12, सीतापुर में आठ, बहराइच में छह, पीलीभीत में चार और शाहजहांपुर में दो लोगों की मौत हुई. जिला स्तरीय टीमों को हाई एलर्ट किया गया है सभी मामलों में डेथ आडिट कराया जा रहा है.

VIDEO: गोरखपुर में 'राजनीति' से हुई 45 बच्चों की मौत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs NZ: शेफाली वर्मा ने रहस्यमयी गेंद पर जड़े लगातार छक्के, देखती रह गई गेंदबाज, देखें Video

Advertisement