NDTV Khabar

वाजपेयी की अस्थियों के विसर्जन करने के दौरान नाव का संतुलन बिगड़ा, नदी में गिरे सांसद-विधायक और डीएम-एसपी

अमहट पुल पर कुआनो नदी में वाजपेयी का अस्थि विसर्जन करते वक्त नाव का संतुलन बिगड़ जाने से सांसद, विधायक, जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक सहित कई लोग नदी में गिर पड़े.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वाजपेयी की अस्थियों के विसर्जन करने के दौरान नाव का संतुलन बिगड़ा, नदी में गिरे सांसद-विधायक और डीएम-एसपी

अस्थि विसर्जन के दौरान नाव का संतुलन बिगड़ गया और बीजेपी नेता नदी में गिर गये.

खास बातें

  1. बस्ती जिले की घटना
  2. नदी में सवार थे सांसद-विधायक और डीएम-एसपी
  3. बड़ा हादसा होने से बचा
नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश को विसर्जित करने के दौरान बड़ा हादसा होते-होते बचा. दरअसल, अमहट पुल पर कुआनो नदी में वाजपेयी का अस्थि विसर्जन करते वक्त नाव का संतुलन बिगड़ जाने से सांसद, विधायक, जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक सहित कई लोग नदी में गिर पड़े. बताया जा रहा है कि बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति राम त्रिपाठी, सांसद हरीश द्विवेदी, कई विधायक, पुलिस अधीक्षक दिलीप कुमार समेत अन्य लोग नाव पर सवार थे. नाव की क्षमता इतने लोगों को ले जाने की नहीं थी. इसी वजह से नाव का संतुलन बिगड़ गया. बस्ती के पुलिस अधीक्षक दिलीप कुमार ने बताया कि ''अस्थि कलश को विसर्जित करने के लिये सांसद, विधायक सहित सभी अधिकारी एक बड़ी नाव में सवार थे कि अचानक नाव का संतुलन बिगड. गया.

यह भी पढ़ें :  अटल बिहारी वाजपेयी के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में हंसी ठिठोली करते दिखे छत्तीसगढ़ सरकार के दो मंत्री

वहां पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम थे और तुरंत सभी लोगों को पानी से निकाल लिया गया और कोई हादसा नहीं हुआ. जिला अधिकारी राज शेखर ने कहा कि यह हादसा किनारे पर हुआ. इस वजह से बड़ा हादसा होते-होते बचा. नाव पलटने के बाद जो लोग नदी में गिर गए थे उन्हें तत्काल सुरक्षित निकाल लिया गया. आपको बता दें कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद बीजेपी सभी राज्यों में अस्थि कलश यात्रा निकाल रही है. उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की सभी नदियों में पूर्व पीएम की अस्थियों को विसर्जित करने का निर्णय लिया है. इसी क्रम में तमाम जिलों में कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : अस्थि कलश यात्रा: ग्‍वालियर में अटल जी के परिवार की अनदेखी, कैब नहीं दिलाई तो ऑटो में गई भतीजी

अटल जी की अस्थि विसर्जन के दौरान हादसा​
 शनिवार दोपहर इलाहाबाद स्थित संगम में विसर्जित की गईं. भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि कलश शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं मंत्री महेंद्र नाथ सिंह की अगुवाई में लखनऊ से यहां लाया गया था. अस्थि विसर्जन से पूर्व संगम तट पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी, उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता सहित अन्य गणमान्य लोगों ने अस्थि कलश को श्रद्धा सुमन अर्पित किए. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गत 16 अगस्त को दिल्ली में निधन हो गया था. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement