NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : इस्लाम अपनाने वाले ब्राह्मण परिवार का हो रहा उत्पीड़न

घनश्याम बताते हैं कि शादी के बाद उसके परिवार (माता-पिता व भाई) ने उसे घर से निकाल दिया था. वह मानसिक रूप से बीमार रहने लगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : इस्लाम अपनाने वाले ब्राह्मण परिवार का हो रहा उत्पीड़न

प्रतीकात्मक फोटो

बांदा: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में बबेरू कस्बे के एक ब्राह्मण परिवार ने आठ साल पहले इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया था. लेकिन अब पड़ोसियों को उसके धर्म परिवर्तन की जानकारी मिली तो परिवार का जीना मुश्किल हो गया है. बबेरू के उपजिलाधिकारी अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने सोमवार को बताया, "मूलरूप से पतवन गांव के घनश्याम शुक्ला ने 2011 में स्वेच्छा से इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया, इसके बाद उसकी पत्नी कालिन्द्री ने 2013 में धर्म परिवर्तन किया. यह परिवार बबेरू कस्बे में मकान खरीद कर रह रहा है." 

उन्होंने बताया, "घनश्याम की शिकायत पर पुलिस बल के साथ रविवार को मैंने जांच की है. धर्म परिवर्तन की जानकारी होने पर अब पड़ोसी घनश्याम का उत्पीड़न कर रहे हैं. इस परिवार की सुरक्षा के लिए बबेरू पुलिस को सतर्क कर दिया गया है."

टिप्पणियां
IANS की खबर के अनुसार घनश्याम बताते हैं कि शादी के बाद उसके परिवार (माता-पिता व भाई) ने उसे घर से निकाल दिया था. वह मानसिक रूप से बीमार रहने लगा. किसी ने हरदौली 'चापे शाह बाबा' की मजार जाने की सलाह दी. जब मजार पहुंचा तो साक्षात चापे शाह बाबा का दीदार हुआ और उनके हुक्म पर उसने इस्लाम धर्म कुबूल कर लिया. 

घनश्याम ने बताया, "धर्म परिवर्तन की सूचना किसी भी पड़ोसी तक को नहीं दी थी. 2013 में पत्नी कालिन्द्री ने भी इस्लाम स्वीकार कर लिया. अब पड़ोसियों को धर्म परिवर्तन की जानकारी हो गई है तो वे हमारा उत्पीड़न कर रहे हैं."


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement