NDTV Khabar

इकबाल का गीत 'लब पे आती है दुआ बनके...' प्रार्थना में गवाने पर सस्पेंड हुए प्रिंसिपल की हुई बहाली, दी गई चेतावनी

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेंद्र स्वरूप ने कहा कि फुरकान हालांकि एक शिक्षक के रूप में काम करेंगे ना कि प्रधानाध्यापक के रूप में.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इकबाल का गीत 'लब पे आती है दुआ बनके...' प्रार्थना में गवाने पर सस्पेंड हुए प्रिंसिपल की हुई बहाली, दी गई चेतावनी

विश्व हिंदू परिषद ने प्रिंसिपल के खिलाफ शिकायत की थी.

नई दिल्ली:

छात्रों से प्रसिद्ध कवि इकबाल का गीत 'लब पे आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी' गवाने के कारण पिछले सप्ताह निलंबित किए गए पीलीभीत में सरकारी प्राइमरी स्कूल के प्रधानाध्यापक फुरकान अली को चेतावनी देकर बहाल कर दिया गया है और उनका स्थानांतरण दूसरे स्कूल में कर दिया गया है. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेंद्र स्वरूप ने कहा कि फुरकान हालांकि एक शिक्षक के रूप में काम करेंगे ना कि प्रधानाध्यापक के रूप में. अली के दिव्यांग होने की जानकारी मिलने के बाद मानवता के आधार पर उन्हें उसी क्षेत्र में दूसरे स्कूल में तैनात कर दिया गया है.

बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी ने कहा कि फुरकाल अली को अंतिम और सख्त चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है. उनसे कहा गया है कि वह विभागीय कानूनों का पालन करें और वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में अपनी ड्यूटी करें.

छात्रों ने गाया इकबाल का गीत, 'लब पे आती है दुआ बनके...', बजरंग दल की शिकायत पर प्रिंसिपल निलंबित


टिप्पणियां

फुरकान अली को विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की शिकायत पर निलंबित किया गया था जिसमें कहा गया था कि प्रधानाध्यापक छात्रों को, जिनमें अधिकतर बहुसंख्यक समुदाय के बच्चे हैं, जबरन प्रार्थना 'लब पे आती है दुआ' गवाते हैं. विहिप के अनुसार, यह प्रार्थना आम तौर पर मदरसों में गाई जाती है.

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: क्या निलंबन से पहले कोई सोच-विचार होता है?



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement