NDTV Khabar

बिगड़ती कानून व्यवस्था के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए : सपा

सपा उपाध्यक्ष किरनमय नंदा ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'यह (योगी) सरकार एक दिन भी नहीं रहनी चाहिए.

945 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिगड़ती कानून व्यवस्था के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए : सपा

अखिलेश यादव(फाइल फोटो)

लखनऊ: सपा ने शुक्रवार को मांग की कि उत्तर प्रदेश की लगातार बिगड़ती कानून व्यवस्था विशेषकर उन्नाव बलात्कार प्रकरण के मद्देनजर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए. सपा उपाध्यक्ष किरनमय नंदा ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'यह (योगी) सरकार एक दिन भी नहीं रहनी चाहिए. अनुच्छेद 356 लागू होना चाहिए और प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि पूरे देश ने देखा कि पीड़िता के पिता को बर्बरता से पीटा गया. पुलिस कैसे कह रही है कि कोई सबूत नहीं है. ऐसे पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें : राम होते तो उन्नाव देख शर्मसार होते...

नंदा ने दावा किया कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड गयी है. महिलाओं के खिलाफ अपराध बढे हैं और शासन प्रशासन इसे रोकने में नाकाम रहा है.

टिप्पणियां
VIDEO : अपराधी कोई भी हो, उसे बख्शा नहीं जाएगा- सीएम योगी​
उधर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 'बेटी बचाओ बेटी पढाओ' का नारा अर्थहीन हो गया है. उन्होंने कहा कि अगर किसी विधायक, सांसद या सरकारी अधिकारी के खिलाफ किसी पीड़ित महिला ने संगीन आरोप लगाया है तो उसके खिलाफ कार्रवाई ठीक उसी तरह होनी चाहिए, जैसे आम आदमी के मामले में होती है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement