NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : रिहायशी इलाकों में जंगली जानवरों के हमले में दो बच्चों की मौत

फिलहाल वन विभाग की टीम ने जंगल से सटे इलाकों की निगरानी और रात में गश्त शुरू कर दी है तथा ग्रामीणों को भी सतर्क रहने को कहा है.

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : रिहायशी इलाकों में जंगली जानवरों के हमले में दो बच्चों की मौत

उत्तर प्रदेश : रिहायशी इलाकों में जंगली जानवरों के हमले में दो बच्चों की मौत- प्रतीकात्मक फोटो

बहराइच (उत्तर प्रदेश): बहराइच और श्रावस्ती जिलों के जंगलों से सटे रिहायशी इलाकों में दो अलग अलग घटनाओं में जंगली जानवरों ने हमला कर दो बच्चों की जान ले ली. पुलिस ने बताया कि बहराइच में कतर्नियाघाट सेंचुरी का नौसर गुमटिहा गांव जंगल से सटा हुआ है.

मुकेश (10 साल) खेतों में काम कर रहे अपने पिता को खाना देने जा रहा था. उसी दौरान रास्ते में गन्ने के खेत में छिपे तेंदुए ने हमला कर उसे मार डाला. तलाश करने पर शाम को मुकेश का क्षत विक्षत शव गन्ने के खेत से बरामद हुआ. वन विभाग ने तेंदुए के हमले से मौत की पुष्टि की है.

दूसरी घटना श्रावस्ती जिले के ककरदरी जंगल से सटे हेमपुर बड़रहवा गांव की है. हसमैन खां (01 साल) बुधवार रात अपनी मां के साथ घर के बाहर बरामदे में सोया था. इसी बीच कोई जानवर हसमैन को उठा ले गया. पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह जगह-जगह बच्चे के अवशेष मिले. पुलिस के अनुसार घटनास्थल से मिले पदचिन्हों से अनुमान लगाया जा रहा है कि बच्चे को लकड़बग्घे ने मारा होगा.

वन विभाग के अनुसार बरसात के कारण जंगली जानवर खाने की तलाश में भटक कर रिहायशी इलाकों में आ जाते हैं. फिलहाल वन विभाग की टीम ने जंगल से सटे इलाकों की निगरानी और रात में गश्त शुरू कर दी है तथा ग्रामीणों को भी सतर्क रहने को कहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement