NDTV Khabar

प्यार की सज़ा: पेड़ से लटका कर युवक को पीटा, परिजनों समेत जूतों की माला पहना कर निकाला जुलूस

पड़ौस की लड़की से प्यार करना एक युवक को महंगा पड़ा. पंचायत ने पहले तो युवक समेत परिजनों की पिटाई की फिर सभी को जूतों की माला पहनाकर गांव में घुमाया.

143 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्यार की सज़ा: पेड़ से लटका कर युवक को पीटा, परिजनों समेत जूतों की माला पहना कर निकाला जुलूस

युवक का गुनाह इतना था कि वह पड़ौस में रहने वाली एक लड़की से प्यार करता था (प्रतीकात्मक चित्र)

खास बातें

  1. पड़ौस की एक लड़की से प्यार करने की पूरे परिवार को मिली सजा
  2. पंचायत के आदेश पर पहले की पिटाई फिर निकाला पूरे गांव में जुलूस
  3. गांववालों ने युवक को पेड़ से बांध कर पीटा फिर जूतों की माला पहनाई
लखनऊ: पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पंचायतों के तुगलकी फरमान थमने का नाम नही ले रहे हैं. ताजा मामला सामने आया है बिजनौर के बढ़ापुर इलाके में. यहां एक युवक को इश्क़ करना महंगा पड़ गया. युवती के परिजनों को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने पंचायत से इसकी शिकायत की. पंचायत के फरमान पर ग्रामीणों ने युवक और उसके परिजनों की जमकर पिटाई की, साथ ही युवक को जूतों की माला पहना कर पूरे गांव मे जुलूस भी निकाला. 2 घंटे तक चले इस शर्मसार करने वाले घटनाक्रम के दौरान पुलिस नदारद रही. अब पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है.

प्यार करने की सजा : राजस्थान में युवक-युवती को निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया

बढ़ापुर एरिया स्थित इस्लामाबाद गांव निवासी युवक श्रवण कुमार घर के करीब रहने वाली एक युवती से प्यार करता था. उनके रिश्ते की भनक युवती के परिजनों को लग गई. परिजनों ने इसकी शिकायत गांव के पंचों से की. पंचायत को यह बात नागवार गुजरी और सुना दिया श्रवण और उसके परिवार की पिटाई का फरमान. पंचायत के फरमान के बाद ग्रामीणों ने मिलकर उन लोगों को जमकर पीटा. इतना ही नहीं उन लोगों ने युवक और उसके माता-पिता को जूतों की माला पहनाकर पूरे गांव और बाजार में घुमाया गया.

टिप्पणियां
VIDEO: कलयुगी पिता ने बेटी को दी प्यार की सजा, रेप किया, फिर मार डाला

श्रवण और उसके परिजनों को जलील करने से जब पंचायत का दिल न भर तो आखिर में श्रवण को पीपल के पेड़ में उलटा लटकाकर पीटने का हुक्म सुनाया गया. श्रवण को पेड़ में लटका कर पीटा गया. पूरे 2 घंटे तक यह तांडव चलता रहा लेकिन पुलिस को इसकी भनक न लग सकी. आखिरकार पीड़ित परिवार ने बढ़ापुर पुलिस को घटना की सूचना दी. पुलिस ने शुरुआत में तो घटना से ही इनकार किया लेकिन जब मामले की भनक मीडिया को लगी तो पुलिस सक्रिय हो गई और पंचायत के सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर अब जांच की बात की जा रही है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement