"विकास दुबे एंजाइटी का मरीज था " पुलिसवालों की हत्या के सवाल पर पत्नी ऋचा दुबे ने बताया

पुलिस की कार्रवाई के बारे में पूछे जाने पर विकास दुबे की पत्नी ने कहा, "मुझे न्यायपालिका, सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री पर पूरा भरोसा है. वे जो करेंगे, वह मेरे हित में होगा."

विकास दुबे को 9 जुलाई को मध्य प्रदेश पुलिस ने उज्जैन में महाकाल मंदिर के परिसर से गिरफ्तार किया था.

लखनऊ :

यूपी पुलिस द्वारा एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे ने कहा कि उनके पति एंजाइटी (anxiety) के मरीज थे और पिछले तीन से चार साल से उनका इलाज चल रहा था. समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए, जब उनसे पूछा गया कि विकास दुबे ने कानपुर मुठभेड़ में पुलिसकर्मियों को क्यों मारा, तो ऋचा ने कहा, “मैंने पहले भी कहा है कि मुझे इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है. अगर मैं वहां होती तो मैं उसे रोकने की कोशिश करती. मैं घटना को रोक सकता थी क्योंकि मेरे पास विकास को रोकने की क्षमता थी, लेकिन मैं यह नहीं कह सकता कि भगवान की इच्छा क्या थी. मैं क्या कह सकती हूं कि विकास एंजाइटी (Anxiety)का रोगी था और मैं पिछले तीन से चार वर्षों से उनका इलाज करवा रही थी. मेरे पास रिपोर्ट्स हैं, मुझे लगता है कि विकास पर एंजाइटी का अटैक आया था और इसी वजह से उसने गलती की."

यह भी पढ़ें-  पूछताछ के बाद पुलिस ने विकास दुबे की पत्नी और बेटे को छोड़ा, कल दोनों को लखनऊ से पकड़ा था

घटना के बारे में बताते हुए विकास की पत्नी ने कहा, "विकास ने मुझे फोन किया कि गांव में फायरिंग हो रही है, तुम बच्चों को लेकर वहां से निकल जाओ, तो इसलिए मैं वहां से तुरंत निकल गई." ऋचा ने आगे बताया, हम फिनिक्स मॉल के पास वाले कॉम्प्लेक्स में छिप गए. वहां हमने छत पर सात दिन बिताए . 

जब ऋचा से पूछा गया कि क्या विकास ने उन्हें 8 पुलिसवालों की हत्या के बारे में बताया था, उन्होंने कहा, "उन्होंने मुझे कभी इस वारदात के बारे में कुछ नहीं बताया, उन्होंने मुझे बस इतना कहा कि यहां से बच्चों को लेकर भाग जाओ. कई बार मैंने सुना है कि गोलीबारी की घटनाएं हुई हैं गांव में या लड़ाई हुई है, इसलिए मुझे लगा कि यह सामान्य है. ” 

यह भी पढ़ें-  विकास दुबे ने ही कराई थी 8 पुलिसकर्मियों की हत्या, उसके साथी शशिकांत की पत्नी का ऑडियो आया सामने

उन्होंने कहा, "सुबह जब मैंने टीवी देखा, तो मैं डर गई और डर जाने के बाद कुछ भी करने में असमर्थ थी. मैं अपने बच्चों को सक्षम बनाने के लिए उनकी परवरिश करना चाहती हूं, इसलिए हम विकास के साथ नहीं रह रहे थे. हमारे समाज में, चोर का बच्चा चोर बन जाता है और डॉक्टर का बच्चा डॉक्टर बन जाता है. इसलिए मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मेरे बच्चे अच्छे लोगों की तरह बनें”

ऋचा ने कहा, "पिछली बार मैं अपने पति के घर पांच साल पहले गई थी. 19 जून को वो भी दो दिन के लिए. वहां मैं उनके
परिवार के साथ रही, जैसे आमतौर पर सभी अपने ससुराल में रहते हैं." पुलिस की कार्रवाई के बारे में पूछे जाने पर विकास दुबे की पत्नी ने कहा, "मुझे न्यायपालिका, सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री पर पूरा भरोसा है. वे जो करेंगे, वह मेरे हित में होगा."

यह भी पढ़ें- कुख्यात गैंगस्‍टर विकास दुबे की पत्‍नी और बेटे को भी हिरासत में लिया गया : सूत्र

बता दें कि विकास दुबे को 9 जुलाई को मध्य प्रदेश पुलिस ने उज्जैन में महाकाल मंदिर के परिसर से गिरफ्तार किया था, जब वह कानपुर में मुठभेड़ के बाद कुछ दिनों तक फरार था. जिसमें उसने 8 पुलिसकर्मियों की हत्या की थी. उज्जैन से कानपुर ले जाते समय '' भागने की कोशिश '' करने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने 10 जुलाई को विकास दुबे को एक मुठभेड़ में मार गिराया.

Newsbeep

एनकाउंटर में मारा गया इनामी गैंगस्टर विकास दुबे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com