SIT ने एप्पल के एरिया मैनेजर की मौत की शुरू की जांच, ADG लखनऊ ने CBI जांच से नहीं किया इनकार

लखनऊ में एप्पल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की मौत की जांच (Vivek Tiwari Death Case) एसआईटी (SIT) ने शुरू कर दी है.

SIT ने एप्पल के एरिया मैनेजर की मौत की शुरू की जांच, ADG लखनऊ ने CBI जांच से नहीं किया इनकार

सबूत जुटाने के लिए एसआईटी की टीम घटनास्थल पर पहुंची.

खास बातें

  • सबूत जुटाने के लिए घटनास्थल पहुंची एसआईटी की टीम
  • एडीजी लखनऊ ने सीबीआई जांच से नहीं किया इनकार
  • यूपी के डिप्टी सीएम ने मृतक के परिजनों से की मुलाकात
लखनऊ:

लखनऊ में एप्पल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की मौत की जांच (Vivek Tiwari Death Case) एसआईटी (SIT) ने शुरू कर दी है. एसआईटी की टीम सबूत जुटाने के लिए गोमती नगर एक्सटेंशन (घटनास्थल) पहुंची. उधर, एडीजी लखनऊ राजीव कृष्ण ने कहा कि अगर सीबीआई चाहेगी तो सीबीआई जांच भी कराई जाएगी. एडीजी लखनऊ राजीव कृष्णा ने कहा, 'परिवार को 24 घंटे पुलिस सुरक्षा दी गई है. अगर परिवार मांग करता है तो मामले की सीबीआई जांच भी कराई जाएगी. उन्होंने कहा कि एसआईटी जांच लखनऊ के आईजी सुजीत पांडेय के नेतृत्व में परिवार के द्वारा लिखाई गई नई एफआईआर के आधार पर की जा रही है. 
 



एडीजी लखनऊ ने कहा कि यह गंभीर मामला है. ऐसी घटना फिर दोबारा नहीं इसलिए इसपर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना दोबारा नहीं हो इसके लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं. 
 
उधर, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मृतक विवेक तिवारी के परिवार वालों से लखनऊ में मुलाकात की. डिप्टी सीएम ने कहा कि सरकार इस घटना से दुखी है और पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है. ऐसी घटनाएं भविष्य में नहीं हों इसके लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. 

यह भी पढ़ें : एप्पल के एरिया मैनेजर की हत्या का मामला केंद्र तक पहुंचा, राजनाथ ने CM योगी को दिया यह निर्देश...

पत्नी कल्पना ने पूछा सीएम योगी से सवाल
वहीं इस मामले में मृतक विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना का कहना है कि मुझे किसी से कोई शिकायत नहीं है बस मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से ये पूछता चाहती हूं कि मैं अपनी बेटियों का भविष्य 25 लाख रुपये में कैसे सुरक्षित करुंगी. कल्पना ने मुख्यमंत्री योगी को पत्र लिखकर मामले की सीबीआई जांच की मांग की है. साथ ही पुलिस विभाग में नौकरी देने और परिवार का भविष्य सुरक्षित करने के लिये एक करोड़ रुपये मुआवजे की भी मांग की है. 
 

42i1nvwd
(मृतक विवेक तिवारी)

यह भी पढ़ें : एप्पल के एरिया मैनेजर की मौत के मामले में योगी के मंत्री के विवादित बोल, धर्मपाल सिंह ने कही यह बात...

चश्मदीद ने बताया क्या हुआ था
विवेक तिवारी के साथ कार में मौजूद महिला ने द्वारा दर्ज करायी गयी रिपोर्ट के हवाले से जानकारी मिली है कि शुक्रवार/शनिवार की रात करीब दो बजे वह अपने सहकर्मी विवेक तिवारी (38) के साथ कार से घर जा रही थींण्‍ रास्ते में गोमतीनगर विस्तार इलाके में उनकी गाड़ी खड़ी थी, तभी सामने से दो पुलिसकर्मी आये तो तिवारी ने गाड़ी आगे बढ़ाने की कोशिश की. इस दौरान एक सिपाही कार की हल्की चपेट में आ गया. सना के मुताबिक पुलिसकर्मियों ने कार को रोकने की कोशिश की और उनमें से एक ने गोली चलायी, जो तिवारी को लगी. इसके कारण बेकाबू हुई कार अंडरपास की दीवार से जा टकरायी. हादसे में गम्भीर रूप से घायल तिवारी को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां थोड़ी देर बाद उसकी मृत्यु हो गई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

लखनऊ: चेकिंग के दौरान कार नहीं रोकने पर एप्पल के एरिया मैनेजर को मारी गोली​

सपा ने सीएम का इस्तीफा मांगा
सपा प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने ‘भाषा‘ से कहा कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के शहडोल में लखनऊ की वारदात को जंगलराज का नतीजा करार देते हुए मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की है. चौधरी ने कहा कि पुलिस मुठभेड़ों को जायज ठहराने वाले मुख्यमंत्री योगी की भाषा इस मुद्दे को लेकर बेहद दम्भ भरी और जहर बुझी है, जिससे पुलिस का दुस्साहस बढ़ रहा है.