NDTV Khabar

नेता पर हावी हो गया एक पिता का दिल, नहीं कर पाए मुलायम नई पार्टी का ऐलान

उन्होंने बीएचयू में छात्राओं पर हुई लाठीचार्ज कांड का जिक्र करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय में लड़कियां सुरक्षित नही हैं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी ने कमरतोड़ दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नेता पर हावी हो गया एक पिता का दिल, नहीं कर पाए मुलायम नई पार्टी का ऐलान

मुलायम सिंह यादव प्रेस कांन्फ्रेस करते हुए

खास बातें

  1. लोहिया ट्रस्ट में हुई थी प्रेस कांन्फ्रेंस
  2. शिवपाल यादव नहीं थे मौजूद
  3. मुलायम ने कहा- अखिलेश के फैसलों से संतुष्ट नहीं
लखनऊ: मुलायम सिंह यादव 'अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी' बनाने जा रहे हैं, पिछले 24 घंटे से उत्तर प्रदेश में इस बात की चर्चा जोरों पर थीं. आज यानी सोमवार को इसका ऐलान होना भी तय हो गया था. तय वक्त के मुताबिक मुलायम सिंह यादव मीडिया के सामने आए भी...लेकिन शिवपाल नदारद थे....मुलायम बेहद गुस्से में थे...लेकिन जब बोलना शुरू किया तो वह नोटबंदी और बीएचयू में हुए छात्राओं पर लाठीचार्ज का जिक्र करना शुरू कर दिया..

मुलायम सिंह यादव का अखिलेश के लिए छलका दर्द, जिसने बाप को धोखा दिया, वह दूसरे का क्या होगा

जब पत्रकारों ने कुरेदा तो छलका नेताजी का दर्द 
जब पत्रकारों ने उनसे अखिलेश और समाजवादी पार्टी के बारे में पूछा तो मुलायम सिंह यादव ने कहा, 'अखिलेश ने  मुझसे कहा था कि मैं 3 महीने के लिए अध्यक्ष पद पर रहूंगा और बाद में आपको दे दूंगा... जिसने बाप का धोखा दिया वह दूसरे का क्या होगा...यही बात देश के एक बहुत बड़े नेता ने कन्नौज में कही थी.. 5 अक्टूबर को पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन में नहीं जाउंगा..

अखिलेश ने शिवपाल यादव पर साधा निशाना, कहा, नेताजी हमारे पिता हैं, उनका आशीर्वाद बना रहेगा

टिप्पणियां
नई पार्टी का होने वाला था ऐलान
मुलायम सिंह यादव और शिवपाल  के समर्थकों का इस बात का पूरा अहसास था कि आज नेता जी अपने जीवन का सबले कठिन फैसला लेकर नई पाार्टी का ऐलान कर देंगे. लोहिया ट्रस्ट में इसकी पूरी तैयारी थी और बड़ी प्रेस कांन्फ्रेंस भी बुलाई गई थी..लेकिन खास बात यह थी कि इस दौरान शिवपाल यादव नदारद थे...जब यह सवाल मुलायम सिंह यादव से पूछा गया तो उनका जवाब था कि वह काम से गए हैं...

...तो नेता जी पर भारी पड़ गया 'बाप का दिल'
मुलायम सिंह यादव ने जिन तेवरों के साथ प्रेस कांन्फ्रेंस शुरू की थी..वह अखिलेश का जिक्र आते-आते ठंडे पड़ गया..अखिलेश के लिए उनका दर्द साफ नजर आ रहा था...और आखिर में बाप का दिल बेटे पर हावी हो गया और वह नए दल का ऐलान नहीं कर पाए...जब उनसे किसी ने कहा कि प्रांतीय अधिवेशन में अखिलेश ने बोला था कि नेताजी हमारे पिता हैं और उनके आशीर्वाद से हम आगे बढ़ेंगे..तो इस बात पर मुलायम का जुवाब था ' बेटे को तो आशीर्वाद हमेशा रहेगा लेकिन उनके फैसलों से हम बिल्कुल संतुष्ट नहीं 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement