शादी के बाद काम करने पर बोलीं विधायक अदिति सिंह, "महिलाएं सब मैनेज कर सकती हैं"

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह (Aditi Singh) ने कहा, ''हमेशा एक महिला से ही क्यों पूछा जाता है कि वे अपने काम और शादी के बीच संतुलन कैसे बनाएंगी? महिलाएं भी दोनों चीजों के बीच संतुलन बना सकती हैं और मैं भी काम करना जारी रखूंगी.''

शादी के बाद काम करने पर बोलीं विधायक अदिति सिंह,

काम और शादी दोनों के बीच रखूंगी तालमेल-कांग्रेस विधायक अदिति सिंह

खास बातें

  • रायबरेली की विधायक अदिति सिंह शादी करने जा रही हैं
  • उनका कहना है कि वो शादी के बाद भी काम करेंगी
  • उनकी शादी पंजाब के विधायक अंगद सिंह से होगी
लखनऊ:

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह (Congress MLA Aditi Singh) का कहना है कि उनकी शादी से उनकी विधानसभा रायबरेली (Rae Bareli) के कामकाज पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. उन्होंने कहा, ''रायबरेली मेरी जिम्मेदारी है और मेरा दिल पूरी तरह से यहां के लोगों के लिए समर्पित है क्योंकि मेरे पूर्वजों का यहां से संबंध है.'' अदिति सिंह ने कहा, '''यह तो अभी शुरुआत है. मैं अपनी शादी के बाद भी यहां के विकास कार्य के लिए रुकने वाली नहीं हूं लगातार काम करती रहूंगी.'' बता दें कि अदिति सिंह पंजाब के विधायक अंगद सिंह (Punjab MLA Angad Singh) से 21 नवंबर को दिल्ली में शादी करने जा रही हैं.

यह भी पढ़ें- रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह पार्टी के MLA अंगद सिंह से करेंगी शादी 

उन्होंने कहा, ''हमेशा एक महिला से ही क्यों पूछा जाता है कि वे अपने काम और शादी के बीच संतुलन कैसे बनाएंगी? महिलाएं भी दोनों चीजों के बीच संतुलन बना सकती हैं और मैं भी काम करना जारी रखूंगी. हम महिलाओं से इस तरह के सवाल करने बंद कर देने चाहिए.''

कांग्रेस विधायक ने कहा, ''मैं और अंगद दोनों एक ही दल से आते हैं तो इससे मुझे मदद मिलेगी. साथ ही मैं और अंगद एक-दूसरे को समझते भी हैं.'' अदिति ने कहा, ''अंगद मेरी और मेरे काम दोनों की इज्जत करते हैं.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें- विधायक अदिति सिंह पर कांग्रेस हिचक रही है या फिर कन्फ्यूज है?

उन्होंने बागी विधायक कहलाए जाने के जवाब में कहा, ''एक ही दल के दो लोगों की राय एक-दूसरे से जुदा हो सकती है. इसके लिए किसी को भी सज़ा देने की ज़रूरत नहीं है. हम दोनों एक-दूसरे से अपनी राय साझा करते हैं पर प्रभावित करने की कोशिश नहीं करते.'' बता दें कि रायबरेली से विधायक अदिति सिंह के खिलाफ पार्टी द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था क्योंकि वे उत्तर प्रदेश विधानसभा ( Uttar Pradesh Legislative Assembly) के विशेष सत्र में शामिल हुईं थीं जिसका कांग्रेस पार्टी ने बहिष्कार किया था.