NDTV Khabar

योगी आदित्यनाथ हर रोज खाते हैं पपीता, खाने पर एक बिल्ली करती है इंतजार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्यनाथ हर रोज खाते हैं पपीता, खाने पर एक बिल्ली करती है इंतजार

उत्तर प्रदेश नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह में भरपूर नाश्ता करने के बाद क्षेत्र में निकल जाते हैं.

खास बातें

  1. योगी आदित्यनाथ पूरी तरीके से शाकाहारी हैं
  2. योगी रोजाना सीजनल फल और दूध लेते हैं
  3. कभी भी अकेले भोजन नहीं करते हैं योगी आदित्यनाथ
गोरखपुर: योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री चुने जाने के साथ ही दुनिया भर के लोग उनके बारे में जानने की कोशिश कर रहे हैं. अब तक दुनिया इन्हें बीजेपी के फायरब्रांड नेता के रूप में जानती रही है, लेकिन उनका रोल बदल चुका है. बीजेपी ने उन्हें देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की कमान सौंपी है. ऐसे में गूगल के जरिए लोग उनके राजनीतिक सफर के अलावा व्यक्तिगत जीवन के बारे में भी जानने की कोशिश कर रहे हैं. इसी बात का ख्याल रखते हुए हम योगी आदित्यनाथ के खान-पान और दैनिक दिनचर्या से जुड़ी बातें आपके लिए लेकर आए हैं. योगी आदित्यनाथ सुबह करीब चार बजे ही बिस्तर छोड़ देते हैं. सुबह के दैनिक क्रिया से निबटने के बाद वह मंदिर में पूजा-पाठ करते हैं. इसके बाद ही वे जलपान (ब्रेकफास्ट/नाश्ता) करते हैं. आइए जानें दिनभर में कब क्या खाते हैं योगी आदित्यनाथ.

नाश्ते में खाते हैं दलिया

पूरी तरीके से शाकाहारी योगी आदित्यनाथ  सुबह करीब नौ बजे पहली बार कुछ खाते हैं. वे नाश्ते में दलिया हर रोज खाते हैं. इसके अलावा सीजनल फल, उबले चने और मूंग खाते हैं. उनके नाश्ते में पपीता जरूर होता है, क्येांकि उन्हें ये बेहद पसंद है. आखिर में वे एक गिलास दूध (250 मिली लीटर) जरूर पीते हैं. 

ये भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ का असली नाम है अजय सिंह नेगी, जानें इनके जीवन से जुड़ी अनसुनी बातें

अक्सर दोपहर का भोजन नहीं करते योगी

योगी आदित्यनाथ सुबह में भरपूर नाश्ता करने के बाद क्षेत्र में निकल जाते हैं. जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनने और क्षेत्र के लोगों के साथ मेल-मुलाकात में वे अक्सर दोपहर का भोजन नहीं करते हैं. वे रात के भोजन में चार चपाती, एक कटोरी दाल, खीर और सीजनल सब्जी जरूर खाते हैं. सोने से पहले एक गिलास दूध पीते हैं.

योगी के साथ खाने के इंतजार में रहती है एक बिल्ली

योगी आदित्यनाथ को पशु-पक्षियों से बेहद लगाव है. गोरखनाथ मंदिर में एक बिल्ली है, जो योगी आदित्यनाथ के साथ ही भोजन करती है. मंदिर के लोग बताते हैं कि योगी आदित्यनाथ जब भी गोरखपुर में रहते हैं तो वह बिल्ली खाने के वक्त उनका इंतजार करती रहती है. इस बिल्ली को खीर पसंद है, इसलिए रोजाना खाने के वक्त इसका इंतजाम किया जाता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement