यूपी में अब अपराधियों की 'खैर नहीं', योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला- बन रही यह LIST

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की सरकार ने माफिया व अपराधी से नेता बने लोगों के शस्त्र लाइसेंस को रद्द करने का फैसला लिया है. इस तरह के नामों की एक सूची भी बनाई जा रही है.

यूपी में अब अपराधियों की 'खैर नहीं', योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला- बन रही यह LIST

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.(फाइल फोटो)

खास बातें

  • यूपी में अब माफियाओं की खैर नहीं
  • अपराधियों का शस्त्र लाइसेंस रद्द करने का फैसला
  • योगी सरकार बनवा रही है लिस्ट
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने माफिया व अपराधी से नेता बने लोगों के शस्त्र लाइसेंस को रद्द करने का फैसला लिया है. इस तरह के नामों की एक सूची भी बनाई जा रही है. उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार, मुख्यमंत्री के निर्देश पर राज्य का गृह विभाग ऐसे व्यक्तियों की सूची तैयार कर रहा है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'हम आपराधिक छवि वाले प्रमुख व्यक्तियों के ट्रैक रिकॉर्ड व उन्हें जारी किए गए शस्त्र लाइसेंस की संख्या की जांच कर रहे हैं. हम उनके परिवार व गैंग के सदस्यों व समर्थकों को जारी किए गए लाइसेंस की एक सूची बना रहे हैं. यह देखा गया है कि हथियार के लाइसेंस परिवार के सदस्य को जारी किया गया है, लेकिन उनका इस्तेमाल गैंग वार में किया गया.'

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल तो BJP ने कहा- भूल गये हैं कि उनके राज में...

इस सूची में माफिया से राजनेता बने मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, धनंजय सिंह, अभय सिंह व राजा भैया के नाम हैं. सूत्रों ने कहा कि इन सभी नेताओं के पास कई लाइसेंस हैं. राज्य सरकार का मानना है कि आपराधिक छवि वाले व्यक्तियों से हथियार लेने से राज्य के कानून व व्यवस्था में सुधार होगा. इससे आग्नेय शस्त्रों के सार्वजनिक प्रदर्शन पर रोक लगेगा, जिसका मकसद लोगों को धमकाना होता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्रियंका गांधी ने योगी सरकार से पूछा- 'क्या अपराधियों के सामने कर दिया सरेंडर?' तो यूपी पुलिस ने दिया ये जवाब

VIDEO: मुकाबला : क्या योगी राज में हट पाएगा अपराध प्रदेश का तमगा?