NDTV Khabar

योगी आदित्यनाथ का असली नाम है अजय सिंह नेगी, जानें इनके जीवन से जुड़ी अनसुनी बातें

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्यनाथ का असली नाम है अजय सिंह नेगी, जानें इनके जीवन से जुड़ी अनसुनी बातें

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.

खास बातें

  1. योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड में हुआ था
  2. योगी आदित्यनाथ गढ़वाल विश्वविद्यालय से गणित में बीएससी कर चुके हैं
  3. गोरखपुर के प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर के महंत हैं योगी आदित्यनाथ
गोरखपुर: उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में आई बीजेपी योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री चुना है. आदित्यनाथ की पहचान फायरब्रांड नेता के रूप में रही है. विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा रैलियां करने वाले आदित्यनाथ पूर्वांचल के सबसे बड़े नेता माने जाते हैं. भाषणों में लव जेहाद और धर्मांतरण जैसे मुद्दों को उन्होंने जोर शोर से उठाया था. बीजेपी के इस फायर ब्रांड नेता के बारे में जानें कुछ अनसुनी बातें.

- पूर्वांचल में राजनीति चमकाने वाले योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड (तब उत्तर प्रदेश का हिस्सा था) में हुआ था. सबसे दिलचस्प बात यह है कि योगी आदित्यनाथ का वास्‍तविक नाम अजय सिंह नेगी है.

- राजनीति के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले योगी आदित्यनाथ गढ़वाल यूनिवर्सिटी से गणित में बीएससी की डिग्री हासिल कर चुके हैं.

ये भी पढ़ें: योगी आदित्‍यनाथ ने खुद को बताया सीएम बनने के योग्‍य, अखिलेश को बताया 'चंगू'

- गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ ने उन्हें अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था, जिसके बाद वे राजनीति में आए.

- योगी आदित्यनाथ के नाम सबसे कम उम्र (26 साल) में सांसद बनने का रिकॉर्ड है. उन्‍होंने पहली बार 1998 में लोकसभा का चुनाव जीता था. इसके बाद आदित्यनाथ 1999, 2004, 2009 और 2014 में भी लगातार लोकसभा का चुनाव जीतते रहे.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी के 'श्मशान-कब्रिस्तान' वाले बयान को लेकर योगी आदित्यनाथ ने यह कहा

- साल 2014 में  गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ की मौत के बाद वे यहां के महंत यानी पीठाधीश्वर चुन लिए गए.

- योगी आदित्यनाथ भाजपा के सांसद होने के साथ हिंदू युवा वाहिनी के संस्थापक भी हैं.

- राजनीति के मैदान में आते ही योगी आदित्यनाथ ने सियासत की दूसरी डगर भी पकड़ ली, उन्होंने हिंदू युवा वाहिनी का गठन किया और धर्म परिवर्तन के खिलाफ मुहिम छेड़ दी. उन्होंने कई बार विवादित बयान भी दिए, लेकिन दूसरी तरफ उनकी राजनीतिक हैसियत बढ़ती चली गई.

ये भी पढ़ें: बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ बोले - राम मंदिर निर्माण जल्द शुरू होगा

- 2007 में गोरखपुर में दंगे हुए तो योगी आदित्यनाथ को मुख्य आरोपी बनाया गया, गिरफ्तारी हुई और इस पर कोहराम भी मचा। योगी के खिलाफ कई अपराधिक मुकदमे भी दर्ज हो चुके हैं.

- गोरखपुर के इलाके में योगी आदित्यनाथ की कही बातों को उनके समर्थक कानून के रूप में पालन करवाते हैं. इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि आदित्यनाथ के कहने के चलते ही गोरखनाथ मंदिर में होली और दीपावली जैसे बड़े त्योहार एक दिन बाद मनाए जाते हैं. 

- 7 सितंबर 2008 को सांसद योगी आदित्यनाथ पर आजमगढ़ में जानलेवा हिंसक हमला हुआ था. इस हमले में वे बाल-बाल बचे थे, यह हमला इतना बड़ा था कि 100 अधिक वाहनों को हमलावरों ने घेर लिया और लोगों को लहुलुहान कर दिया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement