NDTV Khabar

योगी आदित्यनाथ बोले- डिग्री पाने के बाद नौकरी के पीछे ना भागें छात्र

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गुरुवार को छात्रों को सलाह दी कि उन्हें डिग्री मिलने के बाद नौकरी के पीछे भागने की जगह समाज के विकास में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्यनाथ बोले- डिग्री पाने के बाद नौकरी के पीछे ना भागें छात्र

Yogi Adityanath: उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल तस्वीर)

खास बातें

  1. डिग्री पाने के बाद नौकरी के पीछे ना भागें छात्र: योगी
  2. 'समाज के विकास में सक्रिय भूमिका निभाएं छात्र'
  3. 'टेक्निकल इंस्टीट्यूट्स को प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए आगे आना चाहिए'
यूपी:

सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गुरुवार को छात्रों को सलाह दी कि उन्हें डिग्री मिलने के बाद नौकरी के पीछे भागने की जगह समाज के विकास में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए. सीएम ने बच्चों को यह सलाह मदन मोहन मालवीय यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नालॉजी के चौथे दीक्षांत समारोह के दौरान दी. आदित्यनाथ ने कहा, 'दीक्षांत समारोह गुरुकुल की परंपरा को जीवित रख रहे हैं. इससे छात्रों को सच बोलने की प्रेरणा मिलती है और वह सही रास्ते पर चलते हैं.' सीएम ने कहा, 'इंजीनियरिंग के छात्र कई क्षेत्रों में अहम रोल निभा सकते हैं. छात्रों को 'हर घर नल' स्कीम की सफलता के लिए आगे आना चाहिए. इस स्कीम का लक्ष्य 2024 तक हर घर में पोर्टेबल पानी की सप्लाई करना है.'

सुरेश खन्ना यूपी के नए वित्त मंत्री बने, योगी ने किया मंत्रियों के विभागों का बंटवारा, जानिए - किसे क्या मिला


सीएम योगी (Yogi Adityanath) ने कहा, टेक्निकल इंस्टीट्यूट्स को प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए आगे आना चाहिए और गरीबों के लिए घर बनाने के लिए भी अपने अनुभव का योगदान करना चाहिए.' टेक्नालॉजी के महत्व पर सीएम ने कहा, 'इसकी वजह से अनाज की सप्लाई में बहुत मदद मिली. आधार को राशन कार्ड से लिंक किया गया और राशन की दुकानों पर सेल मशीन के इलेक्ट्रानिक प्वाइंट इंस्टाल किए गए.'

सीएम ने बताया, 'मैंने 25 साल तक इन्सेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई लड़ी. 1977 से 2017 तक कई लोगों ने इसमें जान गंवाई. लेकिन राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद हमने कई जागरूक कार्यक्रम चलाए जिससे इन्सेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई में काफी मदद मिली. 

यूपी: मदरसों के विद्यार्थियों के लिए योगी सरकार ने किया बड़ा ऐलान- टॉपर्स को दिए जाएंगे 5-5 हजार रुपये

सीएम ने कहा, 'करीब 50 करोड़ लोग आयुष्मान भारत योजना से लिंक किए गए और 2.5 करोड़ से ज्यादा लोगों को घर दिए गए.' उन्होंने इन्फोसिस के संस्थापक एनआर नारायण मूर्ति को भी कार्यक्रम में डीएससी मानद उपाधि से सम्मानित किए जाने के लिए बधाई दी. सीएम ने उन छात्रों को भी बधाई दी जिन्हें ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री मिली.

VIDEO : योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल का पहला विस्तार

टिप्पणियां

    


 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement