NDTV Khabar

राहुल गांधी के गुजरात पर दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ का तंज- जहां-जहां कदम पड़े कांग्रेस चुनाव हारी

उन्होंने बताया कि कुछ लोग कह रहे हैं कि सरकार ने 10 रुपये या 20 रुपये कर्ज माफ किया है, मगर यह गलत और भ्रामक है. कुछ किसानों ने अपने कर्ज का भुगतान कर दिया था और अगर उनका एक रुपए बकाया राशि थी तो उसे भी सरकार ने माफ किया है.

1KShare
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी के गुजरात पर दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ का तंज- जहां-जहां कदम पड़े कांग्रेस चुनाव हारी

सीएम योगी आदित्यनाथ ( फाइल फोटो )

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात दौरे पर तंज करते हुए आज कहा कि राहुल के कदम जहां भी पड़ते हैं, वहां कांग्रेस चुनाव हारती है. लिहाजा इस बार यह पार्टी गुजरात का चुनाव हारने जा रही है. योगी ने नवमी के अवसर पर गोरखनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद संवाददाताओं से कहा कि राहुल गांधी जिस भी राज्य में चुनाव अभियान के लिये जाते हैं, वहां कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ता है। अभी तक जितने भी ऐसे अवसर आये हैं, उनमें उनकी पार्टी पराजित ही हुई है.

कांग्रेस ने बताई राहुल गांधी के मंदिरों में दर्शन की वजह, लेकिन क्या असली वजह एंटनी समिति की रिपोर्ट है

उन्होंने कहा कि राहुल के रिकार्ड को देखते हुए यह तय हो गया है कि कांग्रेस गुजरात विधानसभा चुनाव भी हारेगी और भाजपा एक बार फिर परचम लहरायेगी. मालूम हो कि राहुल ने पिछले दिनों गुजरात का तीन दिवसीय दौरा किया था और उन्होंने पाटीदारों के बाहुल्य वाले सौराष्ट्र क्षेत्र से अपने अभियान की शुरुआत की थी. गुजरात में इस साल के अंत या वर्ष 2018 के शुरू में चुनाव सम्भावित हैं.

वीडियो : बीएचयू के दोषियों पर कार्रवाई होगी
मुख्यमंत्री योगी ने राम मंदिर का जिक्र करते हुए कहा कि आम जनभावना है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होना चाहिये. हालांकि अभी यह मामला उच्चतम न्यायालय में लम्बित है, लिहाजा हमें फैसले का इंतजार करना चाहिये. म्यांमार के रोहिंग्या मुसलमानों के बारे में योगी ने कहा कि वे लोग शरणार्थी नहीं, बल्कि घुसपैठिये हैं और उनके आतंकवादी होने के भी प्रमाण हैं. मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनकी सरकार ने किसानों के कर्ज माफ करने का अपना वादा पूरा किया है. हालांकि कुछ लोग कह रहे हैं कि सरकार ने 10 रुपये या 20 रुपये कर्ज माफ किया है, मगर यह गलत और भ्रामक है. उन्होंने बताया कि कुछ किसानों ने अपने कर्ज का भुगतान कर दिया था और अगर एक रुपए बकाया राशि थी तो उसे भी सरकार ने माफ किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement