दलित समाज की बच्‍ची को न्‍याय नहीं दिलाना चाहते योगी : संजय सिंह

उत्‍तर प्रदेश के हाथरस जिले में दलित समुदाय की युवती के साथ कथित सामूहिक दुष्‍कर्म और उसकी मौत के मामले पर आंदोलित आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को राज्‍य सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है.

दलित समाज की बच्‍ची को न्‍याय नहीं दिलाना चाहते योगी : संजय सिंह

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह (फाइल फोटो).

लखनऊ:

उत्‍तर प्रदेश के हाथरस जिले में दलित समुदाय की युवती के साथ कथित सामूहिक दुष्‍कर्म और उसकी मौत के मामले पर आंदोलित आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को राज्‍य सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है. AAP सांसद और उत्‍तर प्रदेश के प्रभारी संजय सिंह ने शनिवार को हाथरस प्रकरण को लेकर यहां प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में सवाल उठाया कि आखिर दलित समाज की बच्‍ची को योगी क्‍यों न्‍याय नहीं दिलाना चाहते हैं. 

Newsbeep

सिंह ने कहा योगी सरकार जानबूझ करके हाथरस कांड के दोषियों को बचाने में लगी और केस को कमज़ोर कर रही है. उन्होंने कहा कि मरने से पहले दिए गए बयान को सुप्रीम कोर्ट भी मजबूत साक्ष्य मानता है और यहां तो हाथरस की बच्ची ने मरने के पहले अपने गुनाहगारों के नाम बताये और इतना ही नहीं 22 सितंबर की अलीगढ़ के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज की मेडिको लीगल रिपोर्ट में साफ-साफ लिखा है कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ, फिर भी प्रदेश की योगी सरकार इसको मानने को तैयार नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि सरकार ने शव के साथ सबूतों को जलाया क्‍योंकि बच्‍ची का अंतिम संस्‍कार नहीं हुआ और उसके शव को पेट्रोल से जला दिया गया. उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह के मामले में तो पहले ही दिन में सीबीआई की अधिसूचना जारी हो गई और अगले दिन जांच भी शुरू हो गई, लेकिन हाथरस की बच्ची के मामले में सात दिन हो गए लेकिन अभी तक नोटिफिकेशन नहीं निकला. सांसद ने कहा कि इससे साफ है कि योगी सरकार की नीयत में ही खोट है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)