प्रयागराज:  कुंभ मेले में होगी योगी सरकार की कैबिनेट की बैठक, पूरी की गईं सभी तैयारियां

29 जनवरी यानी मंगलवार को होने वाली इस बैठक को लेकर कुंभ (Kumbh 2019)  मेले में सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार बैठक के बाद मुख्यमंत्री कुंभ (Kumbh 2019)  में पवित्र संगम में स्नान भी करेंगे .

प्रयागराज:  कुंभ मेले में होगी योगी सरकार की कैबिनेट की बैठक, पूरी की गईं सभी तैयारियां

आज कुंभ में यूपी सरकार करेगी कैबिनेट की बैठक

खास बातें

  • योगी सरकार के मंत्री कर सकते हैं स्नान
  • कुंभ में स्नान करेंगे सीएम योगी
  • कैबिनेट की बैठक को लेकर तैयारियां पूरी
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) सरकार ने कैबिनेट बैठक को लेकर अनोखा फैसला किया है. राज्य सरकार (CM Yogi) के इस फैसले के मुताबिक सीएम योगी  (CM Yogi) अपनी कैबिनेट की बैठक प्रयागराज स्थित कुंभ (Kumbh 2019)  मेले में करने जा रहे हैं. 29 जनवरी यानी मंगलवार को होने वाली इस बैठक को लेकर कुंभ (Kumbh 2019)  मेले में सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार बैठक के बाद मुख्यमंत्री कुंभ (Kumbh 2019)  में पवित्र संगम में स्नान भी करेंगे . मुख्यमंत्री (CM Yogi) के साथ मंत्रिमंडल के उनके सहयोगी भी स्नान कर सकते हैं. इसे लेकर कुंभ में हर तरह की तैयारी पूरी कर ली गई है. 

प्रयागराज कुंभ मेले से हो रही हैं 2021 के हरिद्वार महाकुंभ की तैयारी

यूपी के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने को बताया कि 29 जनवरी को कैबिनेट की बैठक प्रयागराज में कुंभ मेला स्थल के इंट्रीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर में होगी. यह बैठक सुबह साढ़े दस बजे आरंभ होगी. बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी कुंभ के पवित्र संगम में स्नान भी करेंगे. स्नान के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ पूरे मंत्रिमंडल के सदस्य 450 साल के बाद खोले गए अक्षयवट और पवित्र सरस्वती कूप के दर्शन करेंगे. अवस्थी के अनुसार यह सभी कार्यक्रम दोपहर तीन बजे तक पूरे हो जायेंगे. बता दें कुछ दिन पहले ही यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कुंभ में स्नान किया था. इसके बाद अखिलेश ने संगम स्थित बड़े हनुमानजी के दर्शन किए और फिर राष्ट्रीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी जी महाराज के कुंभ स्थित आश्रम में गए थे.

Kumbh Mela 2019 Quiz: कुंभ मेले का आखिरी स्नान किस दिन होगा?

इस मौके पर अखिलेश यादव ने कहा था कि जब सम्राट हर्षवर्धन यहां आते थे तो सब कुछ दान करके चले जाते थे. सरकार ने अभी तक कुछ दान नहीं किया. हम चाहेंगे कि केंद्र सरकार यहां पर स्थित किला प्रदेश सरकार को दान कर दे. कुंभ मेले में श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा में इसके सचिव नरेंद्र गिरि और अन्य साधु संतों के साथ प्रसाद ग्रहण करने के बाद अखिलेश ने संवाददाताओं से कहा था कि प्रदेश सरकार अगली कैबिनेट बैठक कुम्भ मेले में करने जा रही है. योगी सरकार इस कैबिनेट में प्रस्ताव पारित कर इसे केंद्र के पास भेज दे. कुंभ खत्म होते-होते कम से कम किला तो दिलवा दें.”सपा प्रमुख ने कहा, “फौज को अगर जगह चाहिए तो हमारे पास चंबल यमुना के पास बहुत जगह है. जितनी चाहे उतनी जगह फौज को दे दें.”

कुंभ में 'पवित्र स्नान' के साथ राजनीतिक सफर की शुरुआत कर सकती हैं प्रियंका गांधी

उल्लेखनीय है कि केंद्र की पहल पर हाल ही में किला स्थित अक्षयवट और सरस्वती कूप को आम लोगों के दर्शन के लिए खोला गया है. अकबर द्वारा बनवाया गया यह किला सेना से नियंत्रण में है. समाजवादी पार्टी पर जातिगत राजनीति के आरोप लगाए जाने के बारे में पूछे जाने पर सपा प्रमुख ने कहा, “हम चाहते हैं कि सभी जातियों की गणना कर ली जाए. किसी जाति को दूसरी जाति के प्रति नफरत फैलाने का मौका न मिले. मैं गंगा मइया की कसम खाकर आपको भरोसा दिलाता हूं कि हम सत्ता में आए तो जातियों के आंकड़े सार्वजनिक करेंगे.” 

कुंभ मेला इस बार बेहद खास, श्रद्धालुओं को मिलेगी हेलीकॉप्टर की सुविधा और रहने के लिए 5,000 कॉटेज

प्रदेश सरकार द्वारा अर्द्धकुंभ का नाम कुंभ किए जाने के बारे में पूछने पर अखिलेश यादव ने कहा, “संगम और अर्द्धकुंभ, नाम बदल जाए, रंग बदल जाए और कुंभ के किनारे कैबिनेट हो जाए. अगर किसान खुशहाल न हो, नौजवानों को नौकरी न मिले तो सब बातें अधूरी रह जाती हैं.”  अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि से यह पूछे जाने पर क्या 2019 के आम चुनावों के लिए वह अखिलेश यादव को आशीर्वाद देंगे, नरेंद्र गिरि ने कहा, 'पूरा का पूरा आशीर्वाद है'. 

प्रयागराजः महाकुंभ में श्रद्धालुओं पर हेलीकॉप्टर से बरसाए फूल​

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com