NDTV Khabar

4 महीने के भीतर ताजमहल को संरक्षित रखने के लिए विजन डॉक्यूमेन्ट दे योगी सरकार : सुप्रीम कोर्ट

गुरुवार को मामले की सुनवाई के दौरान यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि ताजमहल को सदियों तक सुरक्षित रखने के लिए विजन डॉक्यूमेन्ट पर काम चल रहा है.

359 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
4 महीने के भीतर ताजमहल को संरक्षित रखने के लिए विजन डॉक्यूमेन्ट दे योगी सरकार : सुप्रीम कोर्ट

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को कहा कि 4 महीने के भीतर ताजमहल को संरक्षित रखने के लिए विजन डॉक्यूमेन्ट का पहला ड्राफ्ट दे. गुरुवार को मामले की सुनवाई के दौरान यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि ताजमहल को सदियों तक सुरक्षित रखने के लिए विजन डॉक्यूमेन्ट पर काम चल रहा है. यूपी सरकार ने कोर्ट से आग्रह किया कि उन्हें 4 महीने का समय दिया जाए ताकि वो विजन डॉक्यूमेन्ट कोर्ट में दे सके.  पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने 100 सालों तक ताज़महल को सुरक्षित रखने का विजन डॉक्यूमेंट मांगा था.

यह भी पढ़ें : कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने परिवार सहित आगरा में किया ताजमहल का दीदार

टिप्पणियां
सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार को कहा था कि ऐसा विज़न डॉक्यूमेंट दे जिससे इमारत 100 सालों तक सुरक्षित रहे. सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार को कहा कि TTZ(Taj Trapezium Zone) जो 6 जिलों में फैला हुआ है उसको संरक्षित करने के लिए विज़न डॉक्यूमेंट भी दे. कोर्ट ने योगी सरकार को कहा था कि आपको ईमारत को 15 या 20 साल के लिए सुरक्षित नही करना बल्कि 300, 400 साल के लिए सुरक्षित करना है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एडहॉक प्लान से काम नही बनेगा. कोर्ट ने कहा कि जो पेड़ आप लगाते है उसमें से 75 फ़ीसदी मर जाते है, ऐसे में पेड़ लगाने का क्या फायदा.

VIDEO : कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने परिवार सहित किया ताज का दीदार​


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement