NDTV Khabar

एलिवेटेड रोड के उद्घाटन पर कांग्रेस, सपा और बसपा पर साधा मुख्यमंत्री योगी ने निशाना

पहली बार प्रदेश के 35 लाख परिवारों को बिजली के नि: शुल्क कनेक्शन देने का काम किया गया, जिसमें चार लाख परिवार गाजियाबाद से हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एलिवेटेड रोड के उद्घाटन पर कांग्रेस, सपा और बसपा पर साधा मुख्यमंत्री योगी ने निशाना

(फाइल फोटो)

गाजियाबाद:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को यूपी गेट को स्थानीय राजनगर एक्सटेंशन से जोड़ने वाले 10.30 किलोमीटर लंबे एलिवेटेड रोड का उद्घाटन किया. इसे देश में अपनी तरह का सबसे लंबा एलिवेटेड रोड बताया जा रहा है. इस बीच, आदित्यनाथ ने कांग्रेस, सपा और बसपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि पिछली सरकारों ने जातिवाद को बढ़ावा दिया और प्रदेश को दंगे की आग में झोंका. उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने विकास को प्राथमिकता देने की बजाय कमीशनखोरी एवं भाई- भतीजावाद को बढ़ावा दिया. करीब 1,147 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित इस छह लेन वाले एलिवेटेड रोड को 227 खंभों के सहारे बनाया गया है. आदित्यनाथ ने कहा कि जिस वक्त सरकार में आए थे उस समय मालूम हुआ कि प्रदेश में चार करोड़ परिवार ऐसे है जिनके यहां बिजली के कनेक्शन ही नहीं है.

पहली बार प्रदेश के 35 लाख परिवारों को बिजली के नि: शुल्क कनेक्शन देने का काम किया गया, जिसमें चार लाख परिवार गाजियाबाद से हैं. उन्होंने सवाल किया कि क्यों चार करोड़ परिवार बिजली के कनेक्शन से वंचित रहे? आदित्यनाथ ने कहा कि विकास के लिए नीयत और प्रयास की आवश्यकता है और राज्य सरकार उस दिशा में बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि जिस वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश में स्वच्छ भारत अभियान आरंभ किया गया था, उस वक्त सवाल उठ रहे थे कि क्या ये अभियान सफल हो सकेगा. लेकिन अब कहा जा सकता है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश, खासतौर से देश की राजधानी दिल्ली से लगे इलाके, में यह अभियान कामयाब हुआ है.


यह भी पढ़ें : सीएसआर फंड से 330 करोड़ रुपये से अयोध्या में भगवान राम की मूर्ति बनवाने की तैयारी

उन्होंने कहा कि प्रदेश में यदि भाजपा सरकार ना आयी होती तो एलिवेटेड रोड के निर्माण का काम कभी समय से पूरा होने वाला नहीं था. उन्होंने पिछली सरकारों पर मध्याह्न भोजन योजना में भी कमीशनखोरी में व्यस्त रहने का आरोप लगाया. इससे पहले, जिलाधिकारी और गाजियाबाद विकास प्राधिकरण( जीडीए) की उपाध्यक्ष ऋतु माहेश्वरी ने बताया था कि एलिवेटेड रोड के डिजाइन के मुताबिक, वाहन मालिकों को इस सड़क पर 80 किलोमीटर प्रति घंटे की औसत रफ्तार से गाड़ियां चलाने की इजाजत होगी. राजनगर एक्सटेंशन इलाके में एलिवेटेड रोड का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री इस सड़क से वसुंधरा तक गए. समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान पार्षद राकेश यादव ने 16 मार्च को इस सड़क का ‘उद्घाटन’ करते हुए दावा किया था कि राज्य में उनकी पार्टी के शासन के दौरान इस परियोजना का उद्घाटन हुआ था. राकेश यादव और सपा के कई कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज की गई थी.

बहरहानल, आदित्यनाथ ने कहा कि मौजूदा सरकार स्कूली बच्चों को पौष्टिक आहार देने के प्रयास कर रही है. प्रदेश में स्कूल चलो अभियान चलाने की आवश्यकता है. प्रयास होना चाहिए कि कोई भी बच्चा स्कूल जाने से वंचित ना रहे. सरकार समय से स्कूली छात्रों को यूनीफार्म, किताबें आदि देने का काम करेगी. योगी ने कहा कि पिछली सरकारों में अपराधियों से पुलिस वाले खौफ खाते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है. उन्होंने कहा कि बगैर किसी भेदभाव के सरकार विकास, बहन- बेटियों की सुरक्षा पर जोर देगी. उन्होंने नोएडा, ग्रेटर नोएडा में निजी बिल्डरों से आवंटियों की परेशानी के मुद्दे के लिए भी पूर्व की सरकारों को जिम्मेदार ठहराया. मुख्यमंत्री ने जोर दिया कि गाजियाबाद और नोएडा की कानून व्यवस्था ही प्रदेश का चेहरा है. प्रदेश का वातावरण बेहतर होने से उद्यमियों को यहां का वातावरण अच्छा लगने लगा है. हाल में चार लाख 68 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लिए उद्यमियों के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर हुए.

यह भी पढ़ें : अब सरकारी रिकॉर्ड में अंबेडकर के नाम के साथ जुड़ेगा 'रामजी', योगी सरकार ने जारी किया आदेश

उनमें से जल्द 35 हजार करोड़ के कामों का शिलान्यास होगा. आदित्यनाथ ने कहा कि मौजूदा सरकार राष्ट्रवाद में विश्वास रखती है. कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र लोगों को पत्र दिया एवं दस युवाओं को ‘जॉब लेटर’ वितरित किया. इस बीच, सपा नेताओं ने मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए जबकि पेरेंट्स एसोसिएशन (अभिभावक संगठन) ने निजी स्कूलों की मनमानी को रोकने के लिए कार्रवार्इ की गुहार लगार्इ.  मुख्यमंत्री के हिंडन एयरपोर्ट से निकलते वक्त साहिबाबाद में समाजवादी पार्टी के नेताओं ने काले झंडे दिखाकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान पुलिस ने सभी को बड़ी मुश्किल से हटाया. वहीं, इस दौरान पेरेंट्स एसोसिएशन के लोग भी योगी से मिलने पहुंचे. यहां उन्होंने निजी स्कूलों की मनमानी को रोकने के लिए कार्रवार्इ की गुहार लगार्इ.

टिप्पणियां

VIDEO : राज्यसभा के चुनाव इतने दिलचस्प कभी नहीं रहे​
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement