NDTV Khabar

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत बोले- उत्‍तरकाशी गैंगरेप ने मुझे हिलाकर रख दिया, बलात्कारियों की गिरफ्तारी के करीब है पुलिस

उत्तराखंड में उत्तरकाशी जिले के डुंडा क्षेत्र में दो दिन पहले एक नाबालिग के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद भड़के जनाक्रोश के बीच सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दावा किया कि पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के करीब.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CM त्रिवेंद्र सिंह रावत बोले- उत्‍तरकाशी गैंगरेप ने मुझे हिलाकर रख दिया, बलात्कारियों की गिरफ्तारी के करीब है पुलिस

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की फाइल फोटो

खास बातें

  1. दो दिन पहले एक नाबालिग के साथ गैंगरेप और हत्या का मामला सामने आया
  2. पुलिस इस घटना के आरोपियों की गिरफ्तारी के करीब पहुंच चुकी है
  3. आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी
नई दिल्ली: उत्तराखंड में उत्तरकाशी जिले के डुंडा क्षेत्र में दो दिन पहले एक नाबालिग के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद भड़के जनाक्रोश के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दावा किया कि पुलिस इस घटना के आरोपियों की गिरफ्तारी के करीब पहुंच चुकी है और उनके विरूद्ध कानून के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि उत्तरकाशी मसले में पुलिस बलात्कारियों तक लगभग पहुंच चुकी है और जल्द ही गिरफ्तारी भी हो जायेगी . नाबालिग बालिकाओं से बलात्कार के आरोपियों के लिए फांसी की सजा का प्रावधान वाला कानून बनाने के अपने पूर्व के बयान का अपरोक्ष रूप से जिक्र करते हुए रावत ने कहा कि उन्होंने पहले ही ऐसे अपराधियों के लिए फांसी की सजा वाला कानून बनाने की बात कही थी. हालांकि, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने इस संबंध में पहले ही कानून बना दिया है जिसका पालन करना सबके लिए जरूरी है.

झारखंड के लोहरदगा में दो नाबालिग लड़कियों से 11 आरोपियों ने किया रेप, सभी पुलिस गिरफ्त में
 
सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तरकाशी में गैंगरेप के बाद बच्‍ची की हत्‍या की वारदात ने मुझे हिलाकर रख दिया है. हमारी 'देवभूमि' में ऐसे राक्षसी अपराधों के लिए कोई जगह नहीं है और मैं आश्वासन देता हूं कि इस घटना के सभी अपराधियों को कानून के तहत सख्त सजा दी जाएगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे अपराधियों के खिलाफ विधान के अनुसार तेजी से कड़ी कार्रवाई की जायेगी. शुक्रवार की रात परिवार के साथ डुंडा में अपने घर में सोई 11 वर्षीय नाबालिग बालिका को कुछ लोगों ने अगवा कर लिया और कहीं दूर ले जाकर उसके साथ कथित रूप से दुष्कर्म करने के बाद हत्या कर दी. शनिवार सुबह बालिका का शव मिलने के बाद से पूरे इलाके में लोगों में आक्रोश फैल गया जिससे तनाव की स्थिति बन गयी. पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने भी घटना के बाद से अशांत चल रहे उत्तरकाशी का आज दौरा किया और कहा कि घटना की तेजी से जांच की जा रही है और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा . उन्होंने कहा कि 95 प्रतिशत संभावना इस बात की है कि इस घटना में लिप्त आरोपी स्थानीय हैं. उन्होंने कहा कि संदिग्ध लोगों की धर पकड़ कर जांच की जा रही है और जल्दी ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे . 

टिप्पणियां
इसी बीच, उत्तरकाशी पहुंचे समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री से बात कर प्रभावित परिवार को जल्दी ही पांच लाख रुपये की राहत राशि दी जाएगी. उत्तरकाशी और चिन्यालीसौड में घटना के विरोध में व्यापारियों ने सोमवार को बाजार बंद रखे जबकि गंगोत्री मंदिर के घाटों पर दोपहर एक बजे तक कोई पूजा अर्चना नहीं की गयी. गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष मुकेश सेमवाल ने बताया कि सोमवार दोपहर एक बजे तक गंगोत्री धाम में गंगा घाटों पर पुरोहित समाज ने किसी प्रकार की पूजा अर्चना नहीं की . रविवार शाम नाबालिग बालिका की आत्मा की शांति के लिए गंगोत्री बाजार में कैंडल मार्च निकाला गया जबकि चिन्यालीसौड और पुरोला के व्यापार मंडल ने भी आरोपियों को फांसी की सजा की मांग को लेकर जुलूस निकाला . 

इस बीच, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने पीड़ित बालिका के परिजनों से मुलाकात की और राज्य सरकार से आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने और पीड़ित परिवार को दस लाख रूपये की आर्थिक साहायता देने की मांग की . उन्होंने एक सप्ताह के अंदर ऐसा न होने पर पार्टी द्वारा आंदोलन शुरू किये जाने की चेतावनी भी दी . उत्तरकाशी में पीड़ित परिवार से मिलने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सिंह ने कहा कि सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले में संलिप्त आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाये और उन्हें सजा दिलायी जाये . सिंह ने इस संबंध में मुख्यमंत्री रावत को एक पत्र भी लिखा है जिसमें राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में राज्य के बाहर से आने वाले लोगों के चरित्र सत्यापन करने एवं राज्य सरकार की ओर से पीड़ित परिवार को 10 लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने की मांग की गयी है. सिंह ने कहा कि यदि एक सप्ताह के अन्दर इन अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता तो कांग्रेस को सड़कों पर उतर कर राज्य सरकार के खिलाफ आन्दोलन चलाने पर मजबूर होना पड़ेगा. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement