NDTV Khabar

उत्तराखंड: देहरादून में देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी जेठानी, जानिए फिर क्या हुआ?

देवरानी और जेठानी के आपसी रिश्ते बहुत मधुर नहीं माने जाते, लेकिन उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में एक जेठानी अपनी देवरानी को तेंदुए के पंजे से छुड़ाने के लिए उससे भिड़ गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तराखंड: देहरादून में देवरानी को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ी जेठानी, जानिए फिर क्या हुआ?

खास बातें

  1. देहरादून के अल्मोड़ा का मामला
  2. अस्पताल में दोनों को भर्ती कराया गया
  3. 50-50 हजार का मुआवजा देगा वन विभाग
देहरादून: देवरानी और जेठानी के आपसी रिश्ते बहुत मधुर नहीं माने जाते, लेकिन उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में एक जेठानी अपनी देवरानी को तेंदुए के पंजे से छुड़ाने के लिए उससे भिड़ गई. तेंदुए और महिला के बीच काफी संघर्ष हुआ और बाद में तेंदुआ भाग गया. हालांकि तेंदुए ने अपने पंजों की खरोंचों से दोनों महिलाओं को गंभीर रूप से घायल कर दिया.

यह भी पढ़ें : सोसायटी में घुसे तेंदुए ने किया कुत्ते का शिकार, CCTV में कैद हुई तस्वीर

टिप्पणियां
अल्मोड़ा के प्रभागीय वन अधिकारी आरएस प्रजापति ने बताया कि घटना जिले के हवालबाग क्षेत्र के पिलखा गांव में कल सुबह हुई, जब दोनों महिलाएं घास काटने गईं थीं. वहां घात लगाए बैठे तेंदुए ने अचानक घास काट रही 24 वर्षीया पूजा पर पीछे से हमला कर दिया. पूजा के चिल्लाने की आवाज सुनकर उसकी जेठानी उमा देवी (35) अपनी दरांती लेकर तेंदुए से भिड़ गईं.  कुछ देर तक चले भीषण संघर्ष के बाद तेंदुआ दोनों महिलाओं को छोड़कर भाग गया.

VIDEO: गुरुग्राम : मारुति-सुजुकी प्लांट से अब तक पकड़ा नहीं गया तेंदुआ

दोनों घायल महिलाओं को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. वन अधिकारी ने बताया कि घायल महिलाओं में से प्रत्येक को वन विभाग की ओर से शीघ्र ही 50,000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement