Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ICC T20 वर्ल्ड-कप फ़ाइनल : दो ताकतवर बल्लेबाज़ी लाइन-अप की टक्कर, वेस्टइंडीज़ का पलड़ा भारी

ICC T20 वर्ल्ड-कप फ़ाइनल : दो ताकतवर बल्लेबाज़ी लाइन-अप की टक्कर, वेस्टइंडीज़ का पलड़ा भारी

वेस्ट इंडीज के खिलाड़ी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

साल 2010 में जहां इंग्लैंड टी-20 चैंपियन बना था, वहीं 2012 में वेस्टइंडीज़ ने यह खिताब अपने नाम किया था। इस बार यह दोनों टीमें अपने दूसरे वर्ल्ड टी-20 खिताब के लिए आमने-सामने हैं। यह टक्कर कोलकाता के ईडन गार्डन्स मैदान पर होगी, जहां करीब 66 हज़ार दर्शक अच्छे क्रिकेट को सपोर्ट करने पहुंचेंगे। किसी टीम को अब होम सपोर्ट का खतरा नहीं है।

आंकड़ों के लिहाज़ से वेस्टइंडीज़ का पलड़ा भारी है। आपस में खेले कुल 13 टी-20 मैचों में विंडीज़ टीम ने 9 में जीत दर्ज की तो वहीं इंग्लैंड को महज़ 4 में जीत मिली।

टी-20 वर्ल्ड कप में तो इंग्लैंड की टीम कभी भी विंडीज़ को हरा नहीं सकी है। अब तक आपस में खेले 4 वर्ल्ड टी-20 मैच विंड़ीज़ टीम ने जीते हैं।

टी-20 वर्ल्ड कप
इंग्लैंड VS वेस्टइंडीज़

2009 - 15 जून - 5 विकेट से जीता वेस्टइंडीज़
2010 - 3 मई - 8 विकेट से जीता वेस्टइंडीज़
2012 - 27 सितंबर - 15 रन से जीता वेस्टइंडीज़
2016 - 16 मार्च - 6 विकेट से जीता वेस्टइंडीज़

इंग्लैंड के बल्लेबाज़ जो रूट फ़ाइनल मैच को लेकर कहते हैं कि टीम के सभी खिलाड़ी इस मैच को लेकर काफ़ी उत्साहित हैं। विश्व कप के फ़ाइनल में खेलना खास बात है। ये एक सपने की तरह है और टीम बस में या फिर ड्रेसिंग रूम में सभी खिलाड़ियों के चेहरे पर मुस्कान रहती है और वो सब रविवार को फ़ाइनल मैच के लिए मैदान पर उतरने को तैयार हैं।

कोलकाता की पिच अगर एक भारत-पाकिस्तान मैच को छोड़ दें तो बल्लेबाज़ी के अनुकूल रही है। यहां पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 200 का स्कोर भी बना है। ऐसे में फ़ाइनल में भी रनों की बरसात होने की उम्मीद है।

एनडीटीवी से खास बातचीत में भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि कोलकाता में दर्शक अच्छा क्रिकेट देखने के लिए आएंगे और मैच कोई भी जीते लेकिन एक रोमांचक मैच हो और फ़ाइनल मुकाबले का फ़ैसला 40वें ओवर में हो। वो इसकी उम्मीद करते हैं। वन साइडेड मैच होने से निराशा होगी।
 
दोनों टीमों के बीच खेले गए पिछले मैच में क्रिस गेल ने टी-20 वर्ल्ड कप का सबसे तेज़ शतक लगाया था और पिछले मैच में फ़ेल होने के बाद वो भी बड़े मैच में बड़ा स्कोर बनाने के लिए तत्पर होंगे। लेकिन दोनों ही टीमें किसी एक नाम पर नहीं टिकीं। दोनों ने विश्व कप के दौरान दिखाया है कि उनमें कई मैच विनर्स हैं।

और विंडीज़ हो या इंग्लैंड, बल्लेबाज़ी के लिए अनुकूल हालात में ये टीमें खतरनाक दिखी हैं। मतलब कोलकाता में होने वाले फ़ाइनल में रन बरसना तो तय है, लेकिन ये लड़ाई दो ताकतवर बल्लेबाज़ी लाइनअप के बीच है, जहां कोई भी किसी पर भारी पड़ सकता है।