NDTV Khabar

भारत-वेस्टइंडीज के बीच सेमीफाइनल : जानिए कहां कौन सी टीम है मजबूत

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत-वेस्टइंडीज के बीच सेमीफाइनल : जानिए कहां कौन सी टीम है मजबूत

टीम इंडिया के खिलाड़ी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

एक समय ऐसा था जब वेस्टइंडीज दुनिया की सबसे बेहतरीन टीम मानी जाती थी। 80 के दशक में क्रिकेट के बारे में जब बात होती थी तब वेस्टइंडीज की टीम सबसे आगे होती थी। इसकी वजह थी वेस्टइंडीज अपने आपको एक बेहतरीन टीम के रूप में साबित कर चुकी थी।

शानदार खेल की वजह से वेस्टइंडीज ने पहला और दूसरा वर्ल्ड कप भी जीता था। लेकिन वेस्टइंडीज के इस विजय रथ को भारत ने ही रोका था। 1983 के वर्ल्ड के दौरान जब यही बात हो रही थी कि वेस्टइंडीज तीसरी बार वर्ल्ड कप जीतने का गौरव हासिल करेगा, लेकिन सबको हैरान करते हुए भारत ने अपने पहले मैच में वेस्टइंडीज को हराया था और फाइनल में भी वेस्टइंडीज को हराकर वर्ल्ड कप अपने नाम किया था। फिर वेस्टइंडीज कभी दोबारा वर्ल्ड नहीं जीत पाई।

आज एक बार फिर दोनों टीम टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में आमने-सामने हैं। चलिए जानते हैं कि खेल की किस विधा में कौन आगे है।  


सलामी बल्लेबाजी में वेस्टइंडीज आगे है
अगर सलामी बल्लेबाजी की बात की जाए तो वेस्टइंडीज भारत से आगे नज़र आ रही है। वेस्टइंडीज की तरफ से क्रिस गेल सबसे अच्छे फॉर्म में हैं और इस वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 वर्ल्ड कप में सबसे तेज शतक भी मार चुके हैं। श्रीलंका के खिलाफ गेल बैटिंग नहीं कर पाए थे जबकि साउथ अफ्रीका के खिलाफ सिर्फ 4 रन बनाए थे। गेल की गैर-मौजूदगी में वेस्टइंडीज के दूसरे सलामी बल्लेबाज एंड्रू फ्लेचर ने अच्छा खेला है। श्रीलंका के खिलाफ फ्लेचर ने शानदार 84 रन की पारी खेलते हुए वेस्टइंडीज को जीत दिलाई थी।

उधर, भारत के ओपनर अच्छे फॉर्म में नहीं है। रोहित शर्मा ने चार मैच खेलते हुए सिर्फ 45 रन बनाए हैं और 18 उनका सर्वाधिक स्कोर है। शिखर धवन ने इस वर्ल्ड कप में चार मैच खेलते हुए सिर्फ 43 रन बनाए हैं और 23 सर्वाधिक स्कोर रहा है।

मध्यक्रम की बल्लेबाजी में भारत आगे है
अगर मध्यक्रम बल्लेबाजी की बात की जाए तो भारत वेस्टइंडीज से आगे हैं। विराट कोहली इतने शानदार फॉर्म में चल रहे हैं कि किसी भी स्थिति में भारत को मैच जीता सकते हैं। कोहली ने शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत को पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने अकेले दम पर जीत दिलवाई है। युवराज सिंह वर्ल्ड कप से बाहर हो चुके हैं, लेकिन मनीष पांडे और अजिंक्य रहाणे मध्यक्रम के अच्छे बल्लेबाज हैं। अगर मौका मिला तो ये दोनों अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं।

वेस्टइंडीज की मिडल ऑर्डर बैटिंग इस टी-20 वर्ल्ड कप में काफी कमज़ोर रही है। एंड्रू फ्लेचर सलामी बल्लेबाज के रूप में इस वर्ल्ड कप में सफल हुए हैं, लेकिन मिडल ऑर्डर बैट्समैन के रूप में फ़ेल हुए हैं। ड्वेन ब्रावो, दिनेश रामदीन इस वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं।

टिप्पणियां

लोअर मिडल ऑर्डर में वेस्टइंडीज और बॉलिंग में भारत आगे है
जहां लोअर मिडल आर्डर में वेस्टइंडीज अच्छा खेलते हुए नज़र आ रहा है, वहीं बॉलिंग में भारत वेस्टइंडीज से आगे नज़र आ रहा है।  लोअर मिडल ऑर्डर बैट्समैन के रूप में वेस्टइंडीज की तरफ से खुद कप्तान डैरेन सैमी और आंद्रे रसल अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं। वहीं भारत की ओर से हार्दिक पांड्या और रविन्द्र जडेजा इस वर्ल्ड कप में विफल हुए हैं।

भारत की बॉलिंग वेस्टइंडीज से आगे नज़र आ रही है। भारत की तरफ से आशीष नेहरा, रविचंद्रन आश्विन, रविन्द्र जडेजा और बुमराह अच्छी बॉलिंग कर रहे हैं। वहीं वेस्टइंडीज की तरफ ले बद्री और सुलेमान बेन को छोड़कर कोई भी गेंदबाज़ अच्छे फॉर्म में  नज़र नहीं आ रहा है। ये दोनों स्पिन गेंदबाज़ हैं और अपने घरेलू मैदान पर भारत स्पिन खेलने में माहिर है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement