टी-20 वर्ल्ड कप: टीम इंडिया के साथ-साथ एशिया की प्रतिष्ठा भी धोनी ने रखी बरकरार

टी-20 वर्ल्ड कप: टीम इंडिया के साथ-साथ एशिया की प्रतिष्ठा भी धोनी ने रखी बरकरार

टीम इंडिया (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

टी-20 वर्ल्ड कप के तहत रविवार को हुए मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया पर छह विकेट की जीत दर्ज करते हुए धोनी ब्रिगेड ने टीम इंडिया के साथ-साथ एशिया की प्रतिष्ठा को भी बरकरार रखा है। दरअसल अब तक हुए हर टी-20 वर्ल्ड कप में एशिया की किसी न किसी टीम ने अंतिम चार में जगह बनाई है। चूंकि पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की टीम निराशाजनक प्रदर्शन कर इस बार के वर्ल्ड कप से बाहर हो चुकी थीं, ऐसे में एशिया का झंडा बुलंद रखने की जिम्‍मेदारी टीम इंडिया पर ही थी। विराट कोहली की जोरदार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने मोहाली का मैच छह विकेट से जीता और सेमीफाइनल में किसी न किसी एशियाई टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने की परंपरा को बरकरार रखा। टीम इंडिया का सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज से मुकाबला होगा।

टी-20 वर्ल्ड कप के इतिहास में अंतिम चार में जगह बनाने वाली टीमें

वर्ष 2007  (मेजबान: दक्षिण अफ्रीका)
सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें: भारत, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड
विजेता रहा था : भारत
-------------------
वर्ष 2009 (मेजबान: इंग्लैंड )
सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें: पाकिस्तान, श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज
विजेता रहा था : पाकिस्तान
----------
वर्ष 2010 (मेजबान: वेस्‍ट इंडीज)
सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें: इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान , श्रीलंका
विजेता रहा था : इंग्लैंड
----------
वर्ष 2012 (मेजबान: श्रीलंका)
सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें: वेस्‍टइंडीज, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्‍तान
विजेता रहा था : वेस्टइंडीज
-----------
वर्ष 2014  (मेजबान: बांग्‍लादेश)
सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमें: श्रीलंका, भारत, दक्षिण अफ्रीका, वेस्‍टइंडीज
विजेता रहा था : श्रीलंका

नोट: भारत दो बार प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंच चुका है इसमें से एक बार (वर्ष 2007में )वह विजेता रहा जबकि एक बार (वर्ष 2014 में ) उसे उपविजेता रहकर संतोष करना पड़ा।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com