NDTV Khabar

वर्ल्ड टी-20 : विराट कोहली ने फॉल्कनर का किया था बुरा हाल, जानिए सेमीफाइनल में कौन होगा टारगेट पर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वर्ल्ड टी-20 : विराट कोहली ने फॉल्कनर का किया था बुरा हाल, जानिए सेमीफाइनल में कौन होगा टारगेट पर

विराट कोहली ने फॉल्कनर के ओवर में 16 रन ठोककर जीत सुनिश्चित कर दी थी (फाइल फोटो)

टीम इंडिया की ओर से विराट कोहली ने वर्ल्ड टी-20 में अपनी शानदार बल्लेबाजी से सबको अपना कायल बना लिया है। खासतौर से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए 'नॉकआउट' मुकाबले में स्लॉग ओवरों में उन्होंने जिस तरह की 'रिस्क-फ्री' तेज बल्लेबाजी की थी, उसके सामने तो बड़ी से बड़ी पारियां भी फीकी पड़ती नजर आईं थी। इतना ही नहीं विराट ने विरोधी टीम के खास गेंदबाजों को अपना निशाना बनाया और खूब रन बटोरे। जानिए मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में 31 मार्च को होने वाले सेमीफाइनल मैच में कोहली के सामने कौन होगा और वह इससे पहले किसे बना चुके हैं टारगेट-
 

वेस्टइंडीज के मुख्य गेंदबाज
आंद्रे रसेल : वर्ल्ड टी-20 में वेस्टइंडीज की ओर से दाएं हाथ के तेज गेंदबाज आंद्रे रसेल ने 4 मैचों में 16 ओवर किए हैं, जिनमें उन्हें 7 विकेट मिले हैं। इस बीच उनका इकोनॉमी रेट 7.56 रहा है। रसेल वेस्टइंडीज टीम के मुख्य गेंदबाज हैं और उनका रिकॉर्ड भी कुछ ऐसा ही बता रहा है। अब टीम इंडिया के खिलाफ विराट के निशाने पर रसेल हो सकते हैं, क्योंकि वह अच्छे गेंदबाज के सामने बेहतर खेल दिखाते हैं और उस पर हावी होने की कोशिश करते हैं।
 
वेस्टइंडीज की ओर से बैटिंग में क्रिस गेल और बॉलिंग में रसेल (दाएं) मुख्य अस्त्र होंगे (फाइल फोटो : AFP)

सैमुअल बद्री : इस टूर्नामेंट में अधिकांश विकेट टर्निंग रहे हैं और स्पिनरों को खासी मदद मिली है। इसका फायदा उठाते हुए बद्री ने 4 मैचों में 15 ओवर करके 6 विकेट हासिल किए हैं। इसमें उनका इकोनॉमी रेट देखने लायक है जो 5.46 है। टी-20 में यह रिकॉर्ड बद्री की काबिलियत को दर्शाता है। ऐसे में उनके सामने विराट कोहली की एप्रोच देखने लायक होगी। संभावना यही है कि कोहली उन पर हावी होने की कोशिश करेंगे।
 
सैमुअल बद्री इन दिनों शानदार फॉर्म में हैं (फाइल फोटो)

ड्वेन ब्रावो : वेस्टइंडीज के लिए ब्रावो न केवल बैटिंग, बल्कि बॉलिंग में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने अब तक 4 मैचों में 16 ओवर किए हैं, जिनमें उन्हें 6 विकेट मिले हैं और उनका इकोनॉमी रेट 6.81 रहा है। ब्रावो अपनी 'स्लोवर' गेंदों से चकमा देते हैं। अब कोहली उनको कैसा खेलते हैं यह देखने लायक होगा।
 

ड्वेन ब्रावो न केवल बॉलिंग बल्कि बैटिंग में भी अहम भूमिका निभाते हैं (फाइल फोटो)

इन गेंदबाजों को कर चुके हैं टारगेट
जेम्स फॉल्कनर : ऑस्ट्रेलिया का यह ऑलराउंडर भारत के खिलाफ मैच से पहले इस टूर्नामेंट में गेंदबाजी के मामले में टीम का टॉप परफॉर्मर था और 3 मैच में 10 ओवर में 71 रन देकर 7 विकेट अपने नाम किए थे। उनका इकोनॉमी रेट 7.1 था।

फिर बारी आई भारत के खिलाफ मोहाली में खेले गए अहम मुकाबले की। इस मैच में फॉल्कनर ने कोहली का शिकार बनने से पहले 2 ओवर में महज 13 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया था। यदि आप देखें तो उन्होंने एक बार फिर अच्छी गेंदबाजी की थी, लेकिन 18वें ओवर में वह जैसे ही कोहली के सामने आए, तो उन्होंने उनका बुरा हाल कर दिया। इस ओवर में कोहली ने उनकी गेंदों पर 16 रन ठोक दिए, जिसमें एक छक्का, दो चौके और एक डबल शामिल रहा। इस ओवर में कुल 19 रन बने थे, जिसमें एक रन लेगबाई के रूप में आया था, जबकि दो रन धोनी ने लिए थे।
 
ऑस्ट्रेलिया के टूर्नामेंट से बाहर होने के समय फॉल्कनर का इस वर्ल्ड टी-20 में शानदार रिकॉर्ड खराब हो गया और उन्होंने 4 मैच में 13.1 ओवर करके 106 रन लुटा दिए। टूर्नामेंट में उन्हें 8 विकेट मिले और इकोनॉमी रेट 8.05 हो गया।

टिप्पणियां

मोहम्मद आमिर : पाकिस्तान के खिलाफ लो-स्कोरिंग गेम में विराट कोहली को मोहम्मद आमिर का एक ही ओवर खेलने को मिला जिसमें उन्होंने एक चौके के साथ 6 रन बनाए। इसी ओवर से टीम इंडिया की जीत तय हो गई। आमिर के इस ओवर में 8 रन बने। इससे पहले आमिर ने 2 ओवर में मात्र 3 देकर एक विकेट लिया था और टीम इंडिया को दबाव में ला दिया था।

विराट कोहली ने मोहम्मद आमिर के गेंदबाजी कौशल की कई बार तारीफ भी की है (फाइल फोटो)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement