NDTV Khabar

म्‍यांमार की सेना ने लापता विमान का मलबा और 10 शव बरामद किए, बेचैन परिजनों को जानकारी का इंतजार

म्‍यांमार के कमांडर इन चीफ के कार्यालय ने कहा कि समुद्र से दस शव बरामद किए गए हैं. मृतकों में पांच बच्चे शामिल हैं.

143 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
म्‍यांमार की सेना ने लापता विमान का मलबा और 10 शव बरामद किए, बेचैन परिजनों को जानकारी का इंतजार

म्‍यांमार का सैनिक विमान बुधवार दोपहर लापता हो गया था... (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. म्‍यांमार के विमान बुधवार दोपहर से मलबे और शवों की तलाश कर रहे थे.
  2. दवेई कस्बे के पास तटरेखा से दूर विमान का मलबे का पता लगाया गया था.
  3. समुद्र से 10 शव बरामद. मृतकों में पांच बच्चे शामिल हैं- कमांडर इन चीफ
सान ह्लान: अंडमान सागर में दुर्घटनाग्रस्त म्‍यांमार के सैन्य विमान से बचावकर्मियों ने दस शव बरामद कर लिए हैं. सैकड़ों परिजन इस बीच दक्षिणी म्‍यांमार के तट पर जमा हो गए हैं.

नौसेना के जहाज एवं वायुसेना के विमान बुधवार दोपहर से मलबे और शवों की तलाश कर रहे थे. नौसेना के एक जहाज ने दवेई कस्बे के पास तटरेखा से दूर विमान का मलबे का पता लगाया. दुर्घटनाग्रस्त विमान दक्षिणी शहर मायीक से यांगून जा रहा था.

देश के कमांडर इन चीफ के कार्यालय ने कहा कि समुद्र से दस शव बरामद किए गए हैं. मृतकों में पांच बच्चे शामिल हैं.

एक स्थानीय पुलिस सूत्र ने पहचान उजागर ना करने के अनुरोध के साथ बताया कि मृतकों की संख्या करीब 20 है.

सैन्य सूचना दल के प्रवक्ता ने कहा, 'हमने आज (गुरुवार) सुबह आठ बजकर 25 मिनट पर (स्थानीय समयानुसार) विमान का मलबा और कुछ शव बरामद किए हैं'. कल विमान के लापता होने के बाद नौसेना के नौ जहाजों और वायु सेना के तीन विमानों को उसकी तलाश के लिए भेजा गया था.

विमान में सवार लोगों के सही आंकड़ों की पुष्टि नहीं हो पाई थी, लेकिन सेना ने अपनी ताजा जानकारी में कहा है कि विमान में 122 लोग सवार थे. इनमें 35 सैनिक, 14 चालक दल के सदस्यों और 15 बच्चे सहित अधिकतर यात्री सैन्य कर्मियों के परिवार के सदस्य थे.

प्रवक्ता ने कहा, 'कुछ चिकित्सीय जांच के लिए जा रहे थे और कुछ स्कूल जा रहे थे'. कमांडर इन चीफ के कार्यालय ने कहा कि म्यांमार के दक्षिणी तट से विमान का संपर्क स्थानीय समयानुसार अपराह्न करीब एक बजकर 35 मिनट पर टूट गया.

विमान चीन निर्मित मॉडल वाई-8 एफ-200 चार इंजिन वाला टबरेप्रॉप था, जिसका इस्तेमाल म्‍यांमार की सेना आमतौर पर सामान ढोने के लिए करती है.

स्टेट काउंसलर आंग सान सू ची के कार्यालय ने एक बयान जारी कर पीड़ितों के प्रति संवेदना जताई और बचाव दलों के साथ सहयोग करने की घोषणा की.

(इनपुट एएफपी से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement