Budget
Hindi news home page

फ्रांस में मोस्ट वॉन्टेड महिला हयात के बारे में 10 प्रमुख बातें

ईमेल करें
टिप्पणियां
फ्रांस में मोस्ट वॉन्टेड महिला हयात के बारे में 10 प्रमुख बातें
फ्रांस की राजधानी पेरिस स्थित शार्ली एब्दो पत्रिका के दफ़्तर पर हमले और उसके बाद पूर्वी पेरिस स्थित एक यहूदी सुपरमार्केट में हुई हिंसा में 17 लोग मारे गए। इस आतंकी हमले को अंजाम देने वाले तीनों आतंकवादी को पुलिस ने मार गिराया।
 
यहूदी सुपरमार्केट में मारे गए आतंकी अमेडी कौलीबैली की महिला मित्र को अब तक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस संदिग्ध महिला को फ्रांस का मोस्ट वांटेड वूमेन करार दिया है।
मोस्ट वांटेड वूमेन के बारे में 10 बातें-
1. हयात बोमोदीनी नाम की इस महिला के बारे में शुक्रवार से पहले दुनिया कुछ नहीं जानती थी। फ्रांसीसी पुलिस ने शुक्रवार को हयात की तस्वीर जारी करते हुए कहा था कि हयात अपने पुरुष मित्र के साथ गुरुवार को हुए शार्ली एब्दो पत्रिका के दफ्तर पर हुए हमले में शामिल थी।
2. 26 साल की हयात बोमोदीनी के बारे में पुलिस ने यह भी दावा किया है कि वह अपने पुरुष मित्र के साथ यहूदी सुपरमार्केट में भी मौजूद थी और वहां से भागने में कामयाब रही। पश्चिमी मीडिया की कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक हयात बोमोदीनी अपने पुरुष मित्र के साथ यहूदी सुपरमार्केट में मौजूद नहीं थी।
3. पश्चिमी मीडिया की कई रिपोर्टों के मुताबिक हयात बोमोदीनी शार्ली एब्दो पत्रिका पर हुए हमले से पहले 2 जनवरी को फ्रांस छोड़ चुकी थी। मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक हयात बोमोदीनी फ्रांस से निकलकर टर्की पहुंच गई थी। हालांकि टर्की अधिकारियों के हवाले से यह भी कहा गया है कि हयात टर्की के रास्ते 8 जनवरी तक सीरिया पहुंच गई है।
4. फ्रांसीसी पुलिस ने शार्ली एब्दो के दफ्तर पर हमला करने वाले क्वाचि भाईयों की पत्नियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों महिलाओं के फोन कॉल के डिटेल से पता चला है कि जनवरी के पहले हफ्ते में हयात ने इन्हें 500 से भी ज़्यादा बार फोन किया था।
5. हयात बोमोदीनी का जन्म 1988 में फ्रांस में रह रहे एक अल्जीरियाई मूल के परिवार में हुआ था। उसके पिता मोहम्मद डिलीवरी ड्राइवर के तौर पर काम करते थे। हयात की मां की मौत 1994 में हुई थी, जब वह महज 6 साल की थी। ऐसे में पिता ने हयात बोमोदीनी को केयर होम में रखवा दिया।
6. केयर होम में रहते हुए हयात ने अपने टाइटिल को फ्रेंच नामों की तरह रखने की कोशिश करते हुए बोमोदीनी रख लिया। युवा होने पर हयात बोमोदीनी ने कैशियर की नौकरी शुरू की, जहां वह पहली बार आतंकी अमेडी कौलीबैली से मिली और दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे।  
7. फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक अमेडी कौलीबैली बेहद कम उम्र से लूटमार के अपराध में लिप्त युवक था। वह कई बार जेल जा चुका था, लेकिन हयात ने उससे 5 जुलाई, 2009 को धार्मिक रिवाजों के मुताबिक शादी कर ली। हालांकि शादी का पंजीयन नहीं होने से इसे फ्रांस में कानूनी मान्यता नहीं मिली।
8. 2009 तक हयात बोमोदीनी पश्चिमी रहन-सहन का तरीका छोड़कर बुर्का पहनने लगी थी और इसके चलते उन्हें नौकरी से भी निकाल दिया गया था। उस पर कट्टर इस्लामी विचारधारा का प्रभाव बड़ी तेजी से हुआ।
9. कौलीबैली के साथ रिश्तों के चलते फ्रांसीसी पुलिस ने 2010 में हयात की पूछताछ की थी। इस पूछताछ के दौरान हयात ने अलकायदा की आलोचना करने से इनकार कर दिया था। हयात ने तब अमेरिकी नेतृत्व पर इराक, फलीस्तीन, चेचन्या में निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतारने का दोषी बताया था।
10. हयात और कौलीबैली पेरिस के गरीब इलाके बेगनेक्स में रह रहे थे। पड़ोसियों के मुताबिक दोनों धार्मिक इंसान की तरह थे और उनका इलाके में बड़ा सम्मान था, लेकिन पिछले महीने ये दोनों अचानक से बिना किसी को बताए गायब हो गए। इसके बाद पड़ोसियों को इनके बारे में तभी पता चला जब फ्रांसीसी पुलिस ने मोस्ट वांटेड के तौर पर इनकी तस्वीरें जारीं कीं।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement