NDTV Khabar

पेरिस में जोरदार धमाका, दो दमकलकर्मियों की मौत, 47 लोग घायल

मध्य पेरिस में एक इमारत में शक्तिशाली विस्फोट में दो दमकलकर्मियों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गये. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेरिस में जोरदार धमाका, दो दमकलकर्मियों की मौत, 47 लोग घायल

पेरिस में शक्तिशाली विस्फोट में दो दमकलकर्मियों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गये. 

पेरिस:

मध्य पेरिस में एक इमारत में शक्तिशाली विस्फोट में दो दमकलकर्मियों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गये. धमाके की वजह से आस-पास की इमारतें भी क्षतिग्रस्त हो गईं. फ्रांस के आंतरिक मामलों के मंत्री क्रिस्टोफ कास्ताने ने बताया कि धमाके के बाद लगी आग पर काबू पाने और इलाके में रहने वाले लोगों को बाहर निकालने के लिये करीब 200 दमकल कर्मियों को भेजा गया. यह धमाका ऐसे समय में हुआ है जब हालिया सरकार विरोधी प्रदर्शनों के दौर के बीच शहर में ‘‘येलो वेस्ट प्रदर्शन'' हो रहे थे. हाल के सप्ताह में ‘‘येलो वेस्ट'' प्रदर्शनों के दौरान पेरिस एवं अन्य शहरों में हिंसा और तोड़फोड़ हुए थे. कास्ताने ने कहा, ‘‘यह ऐसे समय में हुआ जब लोग सड़क पर थे और दमकलकर्मी घटनास्थल के अंदर''. इलाके में करीब 100 पुलिस अधिकारियों ने कई सड़कों को बंद कर दिया था. इलाके में म्युजी ग्रेविं वैक्स म्युजियम और मशहूर रु दे मार्तियर्स सहित कई रेस्त्रां और पर्यटन स्थल हैं.

बिहारः झोले में छिपाए बम में अचानक हुआ विस्फोट, खेल रहे कई बच्चे हुए घायल


पुलिस ने गार्निये ओपेरा हाउस के सामने की सड़क को भी बंद कर दिया, क्योंकि पीड़ितों को निकालने के लिये ऐतिहासिक इमारत के सामने आपातकालीन हेलिकॉप्टर सेवा को उतारा जाना था. पेरिस के अभियोजक कार्यालय ने बताया कि धमाके में दो दमकलकर्मियों के मारे जाने के अलावा 47 लोग घायल हुए हैं, जिनमें 10 की हालत गंभीर है. नौवें नगर में स्थित जिस इमारत के निचले तल पर धमाका हुआ वहां बेकरी चलती थी. धमाका रु दे त्रेवाइस मार्ग स्थित इमारत में स्थानीय समयानुसार सुबह नौ बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार सुबह आठ बजे) के बाद हुआ. पेरिस दमकल सेवा के कमांडर एरिक मूलिन ने बताया कि धमाका इतना जोरदार था कि इसकी असर चार ब्लॉक आगे भी महसूस किया गया. उन्होंने बताया कि बचावकर्मी अब भी पीड़ितों की तलाश में जुटे हैं.

महाराष्ट्र: पुराना विस्फोटक नष्ट करते समय वर्धा के सेना डिपो में विस्फोट, छह की मौत, 10 जख्मी

टिप्पणियां

रु दे त्रेवाइस के पास रहने वाली क्लेयर सालावुआर्द ने बताया, ‘‘मैं सोई हुई थी लेकिन धमाके की आवाज सुनकर मैं जाग गयी''. घटनास्थल पर मौजूद पेरिस के अभियोजक रेमी हीत्ज ने बताया कि दमकलकर्मियों ने धमाके की वजह गैस लीक होना बताया है. उन्होंने बताया, ‘‘सबसे पहले गैस लीक होने के बाद दमकलकर्मी वहां पहुंचे जिसके बाद धमाका हुआ''. धमाका इतना जोरदार था कि कारें तक तक पलट गयीं. कई सैलानियों के हाथ में सामान था क्योंकि उन्हें इलाके में पास के कई होटलों से सुरक्षित निकाला गया था. यह इलाका खरीदारी के शौकीनों के लिये पसंदीदा स्थल भी है. 

अमृतसर : निरंकारी भवन में दो लोगों ने फेंका ग्रेनेड, 3 की मौत, 15 लोग घायल



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement