यह ख़बर 29 जनवरी, 2012 को प्रकाशित हुई थी

पेरू के सुधार गृह में आग लगने से 26 मरे

पेरू के सुधार गृह में आग लगने से 26 मरे

खास बातें

  • पेरू की राजधानी लीमा में नशा करने के आदी लोगों के एक सुधार गृह में आग लगने से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई।
लीमा:

पेरू की राजधानी में नशा करने के आदी लोगों के एक सुधार गृह में आग लगने से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई।
इस दो मंजिला इमारत में अंदर बंद लोगों को बचाने के लिए दमकल कर्मियों को दीवारों में छेद करना पड़ा। स्वास्थ्य मंत्री अलबर्ट तेजादा ने शनिवार को एपी को बताया कि ‘क्राइस्ट इज लव’ नामक सुधार गृह नशीली दवाओं और अल्कोहल के आदी लोगों के सुधार के लिए था। इस केंद्र के पास लाइसेंस नहीं था।

Newsbeep

उन्होंने बताया कि केंद्र में क्षमता से अधिक लोगों को रखा गया था और इन्हें कैदियों की तरह रखा गया था। पेरू के दमकल विभाग के प्रमुख अंतोनियो जवाला ने बताया कि सुधार गृह से बचाए गए छह लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने से हुई। स्थानीय पुलिस प्रमुख क्लेवर जेगारा ने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


लीमा के इस केंद्र में रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि वह स्थानीय समयानुसार सुबह नौ बजे केंद्र की दूसरी मंजिल पर नाश्ता कर रहा था और उसी समय उसने पहली मंजिल में आग देखी। केंद्र में ही रह रहे एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि अपने बचाव के लिए वह खिड़की से कूद गया।