पेरू के सुधार गृह में आग लगने से 26 मरे

खास बातें

  • पेरू की राजधानी लीमा में नशा करने के आदी लोगों के एक सुधार गृह में आग लगने से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई।
लीमा:

पेरू की राजधानी में नशा करने के आदी लोगों के एक सुधार गृह में आग लगने से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई।
इस दो मंजिला इमारत में अंदर बंद लोगों को बचाने के लिए दमकल कर्मियों को दीवारों में छेद करना पड़ा। स्वास्थ्य मंत्री अलबर्ट तेजादा ने शनिवार को एपी को बताया कि ‘क्राइस्ट इज लव’ नामक सुधार गृह नशीली दवाओं और अल्कोहल के आदी लोगों के सुधार के लिए था। इस केंद्र के पास लाइसेंस नहीं था।

उन्होंने बताया कि केंद्र में क्षमता से अधिक लोगों को रखा गया था और इन्हें कैदियों की तरह रखा गया था। पेरू के दमकल विभाग के प्रमुख अंतोनियो जवाला ने बताया कि सुधार गृह से बचाए गए छह लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने से हुई। स्थानीय पुलिस प्रमुख क्लेवर जेगारा ने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

लीमा के इस केंद्र में रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि वह स्थानीय समयानुसार सुबह नौ बजे केंद्र की दूसरी मंजिल पर नाश्ता कर रहा था और उसी समय उसने पहली मंजिल में आग देखी। केंद्र में ही रह रहे एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि अपने बचाव के लिए वह खिड़की से कूद गया।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com