NDTV Khabar

सबसे बड़ी दूरबीन के 5वें दर्पण की ढलाई शुरू

जीएमटी को चिली के एंडेस में स्थापित किया जाएगा और यह हब्बल स्टेस दूरबीन से 10 गुणा अधिक शार्प इमेज देगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सबसे बड़ी दूरबीन के 5वें दर्पण की ढलाई शुरू

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

वाशिंगटन: उन सात दर्पणों में से पाचंवे दर्पण की ढलाई शुरू हो गई है, जो दुनिया की सबसे विशाल दूरबीन में लगाया जाएगा. जाएंट मेगेलन टेलीस्कोप संगठन (जीएमटी) ने यह जानकारी दी. जीएमटी को चिली के एंडेस में स्थापित किया जाएगा और यह हब्बल स्टेस दूरबीन से 10 गुणा अधिक शार्प इमेज देगा. इसमें 8.4 मीटर (27.5 फीट) चौड़े 7 दर्पण लगे होंगे. इसके दर्पण की ढलाई में 20 टन शीशे का इस्तेमाल किया जा रहा है. जाएंट मेगेलन टेलेस्कोप संगठन ने एक प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी दी.

यह परियोजना साल 2015 में शुरू हुई थी और 2021 तक इसके चालू होने की उम्मीद है. इस दूरबीन का प्रयोग हमारी सौर प्रणाली के बाहर के ग्रहों का अध्ययन करने के लिए किया जाएगा.

यह भी पढ़ें : NASA के वैज्ञानिकों ने दूरबीन से अंतरिक्ष में देखा 'स्वर्ग' जैसा नजारा, रिसर्च की तैयारी शुरू

जीएमटीओ के अध्यक्ष राबर्ट ए. शेल्टन ने कहा, 'जाएंट मेगेलन टेलीस्कोप परियोजना खगोल विज्ञान में नई खोज करेगी और शायद अध्ययन के लिए एक पूरा नया क्षेत्र खोलेगी. एरिजोना विश्वविद्यालय की प्रतिभाओं के साथ मिलकर हमारी टीम सातवें दर्पण का काम पूरा कर रही है.'

VIDEO : 68 साल बाद दिखा सुपरमून


टिप्पणियां
जीएमटी के पहले दर्पण का निर्माण कई साल पहले पूरा किया गया था. जबकि तीन अन्य दर्पण एरिजोना विश्वविद्यालय के मिरर लैब में उत्पादन के विभिन्न चरण में हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement