NDTV Khabar

बांग्लादेश : नाफ नदी के पास बरामद हुए 9 रोहिंग्या मुस्लिमों के शव, मृतकों की संख्या हुई 97

बांग्लादेश और म्यांमार की सीमा के बीच नाफ नदी है. कॉक्स बाजार खुफिया अधिकारी प्रोवास चंद्र धार ने कहा, 'म्यांमार में फैली हिंसा के बाद नदी मार्ग पार कर बांग्लादेश आने के क्रम में रोहिंग्या मृतकों की संख्या बढ़कर 97 हो गई है.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बांग्लादेश : नाफ नदी के पास बरामद हुए 9 रोहिंग्या मुस्लिमों के शव, मृतकों की संख्या हुई 97

रोहिंग्या मुस्लिम ( फाइल फोटो )

बांग्लादेश के अधिकारियों ने बुधवार को नाफ नदी के समीप तीन महिलाओं एवं तीन बच्चे समेत नौ रोहिंग्या मुस्लिमों के शव बरामद किए. बांग्लादेश और म्यांमार की सीमा के बीच नाफ नदी है. कॉक्स बाजार खुफिया अधिकारी प्रोवास चंद्र धार ने कहा, 'म्यांमार में फैली हिंसा के बाद नदी मार्ग पार कर बांग्लादेश आने के क्रम में रोहिंग्या मृतकों की संख्या बढ़कर 97 हो गई है.' एक अधिकारी ने एफे न्यूज को बताया, 'गत रात नदी से नौ शव बरामद हुए. दो और तीन के शव पर गोली के घाव नजर आए और बाकी की मौत नाव डूबने की वजह से हुई होगी. नाव संभवत: दो या तीन दिन पहले डूबी होगी.'

पढ़ें : रोहिंग्या मामले में भारत की छवि धूमिल करने की कोशिश : किरेन रिजीजू

म्यांमार में उग्रवादी समूह के पुलिस एवं मिलिट्री चौकियों पर हमले के बाद फैली हिंसा के बाद बांग्लादेश के दक्षिणपूर्वी भाग में लगातार रोहिंग्या शरणार्थी पहुंच रहे हैं.  उग्रवादी समूह 'द अराकान रोहिंग्या साल्वेशन आर्मी' ने शनिवार को लोगों को मानवीय सहायता पहुंचाए जाने के उद्देश्य से एक महीने की संघर्ष विराम की घोषणा की थी जिसे म्यांमार सरकार ने खारिज कर दिया.

वीडियो :  भारत में रोहिंग्या मुस्लिमों को प्रवेश नहीं 
इससे पहले पिछले वर्ष के अंत में भी ऐसे ही उग्रवादी हमले के बाद वहां हुई हिंसा के बाद लगभग 80,000 रोहिंग्या वहां से भागकर बांग्लादेश आए थे. रोहिंग्या संकट से पहले बांग्लादेश में लगभग तीन से पांच लाख रोहिंग्या समुदाय के लोग रहते थे जिनमें से केवल 32,000 को शरणार्थी का दर्जा प्राप्त है. 

इनपुट : भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement