NDTV Khabar

भारतीय इंजीनियरों को छुड़ाने के लिए कबायली सरदारों के साथ साधा गया संपर्क 

प्रांतीय गवर्नर अब्दुल नेमती ने बताया कि सुरक्षा बल और स्थानीय अधिकारी लापता इंजीनियरों और उनके वाहन चालक का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय इंजीनियरों को छुड़ाने के लिए कबायली सरदारों के साथ साधा गया संपर्क 

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: अफगानिस्तान से अगवा हुए भारतीय इंजीनियर को छुड़ाने के लिए अफगानी अधिकारी स्थानीय कबायली सरदारों के साथ संपर्क में हैं. पझवोक अफगान न्यूज ने प्रांतीय पुलिस के प्रवक्ता जबीउल्ला शूजा के हवाले से बताया कि अपहृत इंजीनियरों का स्वास्थ्य ठीक है. उन्होंने कहा कि अधिकारी इंजीनियरों का पता लगाकर उन्हें छुड़ाने का प्रयास कर रहे हैं. शूजा ने कहा कि आरपीजी समूह की कंपनी केईसी इंटरनेशनल के भारतीय इंजीनियर एक बिजली उप केंद्र के निर्माण की परियोजना पर काम कर रहे थे. सातों इंजीनियर कल कार्य की प्रगति का जायजा लेने जा रहे थे. तभी चश्मा ए शीर इलाके में उग्रवादियों ने उनका अपहरण कर लिया गया.

यह भी पढ़ें: 7 भारतीय इंजीनियरों को अगवा करने के पीछे हो सकता है तालिबान

प्रांत में सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि अपहृत भारतीय इंजीनियरों की रिहाई के लिए अफगान बल , सरकारी अधिकारी और स्थानीय कबायली सरदार प्रयास कर रहे हैं. वहीं एक चश्मदीद ने पझवोक अफगान न्यूज को बताया कि उसने पुल ए खुमरी ए शरीफ राजमार्ग पर कुछ हथियारबंद लोगों को सफेद रंग की एक कार को रोकते हुए देखा.चश्मदीद ने कहा कि उसे यह तो नहीं पता कि कार में कितने लोग थे लेकिन आतंकवादी भारतीय नागरिकों को मिनी बस जैसे वाहन में लेकर उनके नियंत्रण वाले क्षेत्र की तरफ चले गए.

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में 7 भारतीय इंजीनियरों का अपहरण, विदेश मंत्रालय ने की पुष्टि

प्रांतीय गवर्नर अब्दुल नेमती ने बताया कि सुरक्षा बल और स्थानीय अधिकारी लापता इंजीनियरों और उनके वाहन चालक का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों और सरकारी अधिकारियों के अलावा स्थानीय कबाइली सरदारों ने भी भारतीय नागरिकों को छुड़ाने के प्रयास तेज कर दिए हैं.

टिप्पणियां
VIDEO: भारतीय इंजीनियर का हुआ अपहरण.


बगलान के गवर्नर ने रविवार को कहा था कि आतंकी समूह ने भारतीय इंजीनियरों और उनके वाहन चालक का यह सोच कर अपहरण किया कि वे सरकारी कर्मचारी हैं. अभी तक किसी भी समूह ने अपहरण की जिम्मेदारी नहीं ली है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement