NDTV Khabar

अफगानिस्तान में विस्फोट में चार बच्चों समेत आठ लोगों की मौत

उत्तरी अफगानिस्तान में सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए सड़क के किनारे किया गया विस्फोट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अफगानिस्तान में विस्फोट में चार बच्चों समेत आठ लोगों की मौत

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. हमले की जिम्मेदारी तत्काल किसी ने नहीं ली
  2. तालिबान विदेशी एवं अफगान बलों को बनाता है निशाना
  3. इस साल छह माह में आईईडी की वजह से 877 आम लोग हताहत हुए
मजार-ए-शरीफ:

उत्तरी अफगानिस्तान में सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए बुधवार को सड़क किनारे किए गए एक विस्फोट की चपेट में आने से चार बच्चों समेत आठ लोगों की मौत हो गई.

बल्ख प्रांत के शोलगारा जिले में बुधवार को तड़के हुए विस्फोट में छह अन्य जख्मी भी हुए हैं.    प्रांतीय पुलिस के उप प्रमुख अब्दुल राज़क कादेरी ने एएफपी को बताया कि वे जिले के मध्य की ओर जा रहे थे तभी उनकी गाड़ी विस्फोट की चपेट में आ गई. उन्होंने कहा कि मृतकों में चार बच्चे शामिल हैं.    

यह भी पढ़ें : अफगानिस्तान : तालिबान के हमलों में 4 महिलाएं सहित 12 लोग मारे गए

जिला गवर्नर आमिर मोहम्मद वकार ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि अफगान सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए आतंकवादियों ने बम लगाया था. हमले की जिम्मेदारी तत्काल किसी ने नहीं ली है लेकिन तालिबान, विदेशी एवं अफगान बलों और सरकारी अधिकारियों को ले जा रही गाड़ियों को निशाना बनाने के लिए आईईडी से निशाना बनाता है.    


VIDEO : भारतीय इंजीनियर का अपहरण

टिप्पणियां

अफगानिस्तान में 17 साल से चल रहे संघर्ष का दंश सबसे ज्यादा आम लोगों ने झेला है. वे सबसे ज्यादा संख्या में हताहत हुए हैं. वर्ष 2018 के पहले छह महीने में आईईडी की वजह से 877 आम लोग हताहत हुए हैं. 232 लोगों की जान गई थी और 645 जख्मी हुए.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement