Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

मजार-ए-शरीफ में भारतीय वाणिज्य दूतावास के बाहर मुठभेड़ खत्म, सभी आतंकी ढेर

ईमेल करें
टिप्पणियां
मजार-ए-शरीफ में भारतीय वाणिज्य दूतावास के बाहर मुठभेड़ खत्म, सभी आतंकी ढेर
काबुल/नई दिल्ली: अफगानिस्तान के मजार-ए-शरीफ स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के बाहर सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच 25 घंटे तक चली मुठभेड़ सभी आतंकवादियों के मारे जाने के साथ सोमवार रात खत्म हो गई। इन आतंकवादियों ने दूतावास इमारत में घुसने की कोशिश की थी। तीन आतंकवादी जहां रविवार रात मारे गए थे, वहीं बाकी आतंकियों को सोमवार रात तक मार गिराया गया।

भारत सरकार के एक सूत्र ने कहा, 'अफगान अधिकारियों ने अभियान खत्म होने की पुष्टि कर दी है।' एएफपी के अनुसार प्रांतीय पुलिस प्रवक्ता सैयद कमाल सादात ने कहा, 'आतंकियों के सफाए का अभियान खत्म हो गया है और सभी आतंकवादी मारे गए हैं।' कुछ खबरों में कहा गया कि हमलावरों में से एक को जीवित पकड़ लिया गया, लेकिन इसकी कोई पुष्टि नहीं हो पाई है।

आतंकवादियों के एक समूह ने वाणिज्य दूतावास पर रविवार रात करीब 9.15 बजे पर हमला किया था। वे इमारत में घुसना चाहते थे, लेकिन सुरक्षाबलों ने उनके इरादों को नाकाम कर दिया। पूर्व में आधिकारिक सूत्रों ने कहा था कि अफगान नेशनल पुलिस की विशेष लड़ाकू इकाइयों ने भारतीय वाणिज्य दूतावास के बाहर से तीन शव बरामद किए।

कुछ अन्य आतंकवादी भारतीय वाणिज्य दूतावास से करीब 100 मीटर दूर पांच मंजिला एक इमारत में जा छिपे। सुरक्षाबलों ने उन्हें मार गिराने का अभियान शुरू किया।

एएफपी ने सरकारी प्रवक्ता जान दुर्रानी के हवाले से कहा, 'इमारत के भीतर हमारा तलाशी अभियान अभी जारी है।' इससे पहले सोमवार शाम अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की जिन्होंने उनसे कहा कि भारत हमेशा अफगानिस्तान के लोगों के साथ खड़ा है।

गनी ने पीएम मोदी को घटना के बारे में जानकारी दी और मोदी ने आतंकी इरादों को नाकाम करने में अफगान नेशनल पुलिस द्वारा दिखाई गई बहादुरी और साहस की तारीफ की। अधिकारियों ने बताया कि हमला रविवार रात 9.15 बजे हुआ, जब कम से कम दो आतंकवादियों ने वाणिज्य दूतावास पर हमला करने की कोशिश की।

वहां तैनात आईटीबीपी के जवानों ने भारी गोलीबारी कर उनके इरादों को नाकाम कर दिया। उन्होंने कहा कि दूतावास की तरफ कम से कम सात रॉकेट चालित ग्रेनेड दागे गए, लेकिन सभी निशाना चूक गए।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement