Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

भारत से लौटते ही समाप्त हुआ 'मोदी प्रेम'! ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने भारतीयों को दिया झटका

ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत से लौटते ही समाप्त हुआ 'मोदी प्रेम'! ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने भारतीयों को दिया झटका

दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर में पीएम मोदी के साथ ऑस्ट्रेलियाई पीएम मॉलकॉम टर्नबुल

खास बातें

  1. ऑस्ट्रेलिया ने बढ़ती बेरोजगारी से निपटने के लिये कदम
  2. अस्थायी विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किए जा रहे वीजा
  3. इस कार्यक्रम को 457 वीजा के नाम से जाना जाता है.
मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया ने बढ़ती बेरोजगारी से निपटने के लिए 95,000 से अधिक अस्थायी विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किए जा रहे वीजा कार्यक्रम को मंगलवार को समाप्त कर दिया. इन कर्मचारियों में ज्यादातर भारतीय हैं. इस कार्यक्रम को 457 वीजा के नाम से जाना जाता है. इसके तहत कंपनियों को उन क्षेत्रों में चार साल तक विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करने की अनुमति थी जहां कुशल ऑस्ट्रेलियाई कामगारो की कमी है.प्रधानमंत्री मैलकॉम टर्नबुल ने कहा -हम आव्रजन देश हैं लेकिन.. ऑस्ट्रेलियाई कामगारों को अपने देश में रोजगार में प्राथमिकता मिलनी चाहिए. इसीलिए हम 457 वीजा समाप्त कर रहे हैं. इस वीजा के जरिये अस्थायी तौर पर विदेशी कर्मचारी हमारे देश में आते हैं.’ यह वीजा रखने वालों में ज्यादातर भारत के हैं. उसके बाद ब्रिटेन और चीन का स्थान है.
 
malcolm turnbull reuters
(ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री टर्नबुल)

उन्होंने कहा, ‘‘हम 457 वीजा को रोजगार का पासपोर्ट होने की अब अनुमति नहीं देंगे और ये रोजगार आस्ट्रेलियाई के लिये होने चाहिए.’’ एबीसी की रिपोर्ट के अनुसार 30 सितंबर की स्थिति के अनुसर आस्ट्रेलिया में 95,757 कर्मचारी 457 वीजा कार्यक्रम के तहत काम कर रहे थे. अब इस कार्यक्रम की जगह दूसरा वीजा कार्यक्रम लाया जाएगा.
 
narendra modi malcolm turnbull delhi metro
दिल्ली मेट्रो में सेल्फी लेते टर्नबुल

टर्नबुल ने कहा कि नया कार्यक्रम यह सुनिश्चित करेगा कि विदेशी कर्मचारी उन क्षेत्रों में काम करने के लिये ऑस्ट्रेलिया आयें जहां कुशल लोगों की काफी कमी है न कि केवल इसीलिए आयें कि नियोक्ता को ऑस्ट्रेलियाई कामगारों के बजाए विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करना आसान है. प्रधानमंत्री ने यह घोषणा हाल ही में भारत यात्रा से लौटने के बाद की है. वहां उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा, आतंकवाद निरोधक उपायों, शिक्षा तथा उर्जा पर चर्चा की और छह समझौतों पर हस्ताक्षर किये गए. भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टर्नबुल ने काफी तारीफ की थी. दोनों की जो तस्वीरें सार्वजनिक हुईं वह काफी आत्मीय जान पड़ रही थीं. दोनों ने मेट्रो में सफर किया. लोगों ने दोनों का अभिनंदन भी किया. दोनों ने सेल्फी भी ली.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement