NDTV Khabar

अमेरिका ने ट्रंप-पुतिन मुलाकात से पहले की रूस की निंदा

अमेरिका ने रूस में असंतोष जाहिर करने वालों के खिलाफ धमकी और हिंसा के जारी सिलसिले की निंदा की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिका ने ट्रंप-पुतिन मुलाकात से पहले की रूस की निंदा

अमेरिका ने रूस में असंतोष जाहिर करने वालों के खिलाफ धमकी और हिंसा के जारी सिलसिले की निंदा की है.

वाशिंगटन: अमेरिका ने रूस में असंतोष जाहिर करने वालों के खिलाफ धमकी और हिंसा के जारी सिलसिले की निंदा की है. अमेरिका ने यह निंदा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात के पहले की है. विदेश विभाग ने गुरुवार को एक बयान में कहा, "रूस में असंतोष जाहिर करने वालों के खिलाफ धमकी व हिंसा के चल रहे पैटर्न से अमेरिका परेशान है। इन असंतोष जाहिर करने वालों में स्वतंत्र पत्रकार, राजनीतिक विपक्ष के सदस्य व नागरिक समाज शामिल है।" समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, अमेरिका ने पत्रकार नताल्या एस्तेमिरोवा व पॉल क्लेबनिकोव के सम्मान में बयान जारी किया. इन पत्रकारों की क्रमश: 2009 व 2004 में हत्या कर दी गई थी.

अमेरिका में लोग डोनाल्ड ट्रंप से ज्यादा अच्छा राष्ट्रपति मानते हैं इनको, ऐसे निकाले नतीजे

बयान के अनुसार, मानवाधिकार कार्यकर्ता एस्तेमिरोवा को अगवा कर चेचन्या में उनकी हत्या कर दी गई थी, जबकि अमेरिकी नागरिक क्लेबनिकोव की भ्रष्टाचार की रिपोर्टिग करने के प्रतिशोध के तहत हत्या कर दी गई. विभाग ने कहा, "न तो हत्यारों को और न अपराध के लिए प्रेरित करने वालों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया गया।" ट्रंप प्रशासन ने चेचन्या व रूस में कहीं भी मानवाधिकार उल्लंघनों की छूट समाप्त करने का आह्वान किया और रूस व दुनिया भर में बहादुर पत्रकारों व मानवाधिकार रक्षकों के प्रति अपना समर्थन जताया. ट्रंप की पुतिन से हेलसिंकी में 16 जुलाई को मुलाकात होनी है. 

टिप्पणियां
अंग्रेजी बोलते-बोलते अचानक पंजाबी बोलने लगा विदेशी, सुनते ही हैरान रह गए सरदार जी
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement