NDTV Khabar

अमेरिका ने कहा- अफगान नीति को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं

पेंटागन ने कहा कि अफगानिस्तान नीति पर किसी तरह का फैसला लेने के लिए कोई तय समय सीमा नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिका ने कहा- अफगान नीति को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं

पेंटागन ने कहा है कि अमेरिकी की अफगान नीति की समीक्षा को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है.

खास बातें

  1. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप प्रशासन का सैनिक हटाने का विचार
  2. सैनिकों के बारे में या किसी और के बारे में समीक्षा पर ही निर्णय : पेंटागन
  3. कूटनीतिक, वित्तीय, खुफिया जानकारी और सूचना में भी अमेरिका सहयोगी
वाशिंगटन:

अमेरिका ने कहा है कि वह फिलहाल अफगानिस्तान को लेकर अपनी नीति की समीक्षा और बदलाव के बारे में किसी निर्णय की स्थिति में नहीं है. पेंटागन ने कहा है कि अफगान नीति की समीक्षा पर ट्रंप प्रशासन की ओर से अभी कोई फैसला नहीं किया गया है. इसके साथ ही पेंटागन ने यह भी कहा है कि ऐसा किए जाने के लिए तय समय सीमा नहीं है.

पेंटागन की ओर से यह जवाब मीडिया की एक रिपोर्ट पर आया है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रंप प्रशासन अफगानिस्तान से सैनिक हटाने के विकल्प पर विचार कर रहा है.

यह भी पढ़ें - अफगानिस्तान में कमजोर पड़ने लगा है ISIS, पेंटागन ने बताया कारण

पेंटागन के प्रेस सचिव नौसेना कप्तान जेफ डेविस ने कैमरों की अनुपस्थिति में हुए संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, ‘‘हम एक ऐसी प्रक्रिया में अपना योगदान दे रहे हैं, जिसका नेतृत्व व्हाइट हाउस कर रहा है. व्हाइट हाउस सिर्फ सैन्य ही नहीं बल्कि कूटनीतिक, वित्तीय, खुफिया जानकारी और सूचना जैसे राष्ट्रीय शक्ति के साधनों पर और हमारी इच्छित एवं अंतिम स्थिति पर गौर कर रहा है.’’


यह भी पढ़ें - उत्तरी अफगानिस्तान में अफगान सैनिक द्वारा की गई गोलीबारी में सात अमेरिकी सैनिक घायल

अफगानिस्तान में सैनिकों की संख्या बढ़ाए जाने के मुद्दे पर डेविड ने कहा, ‘‘उसके आधार पर ही कोई निर्णय लिया जाएगा, फिर चाहे वह सैनिकों के बारे में हो या किसी और चीज के बारे में.’’

VIDEO : आतंकी करतूत

टिप्पणियां

शीर्ष नेता पहले यह कह चुके हैं कि वे दशकों पुराने अफगान संकट के स्थायी समाधान के लिए एक क्षेत्रीय रुख अपना रहे हैं. इस संकट से भारत, पाकिस्तान, चीन, मध्य एशियाई गणतंत्रों और रूस का संबंध है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement