NDTV Khabar

इस साल दूसरी बार एच 4 वीजा संबंधी अधिसूचना जारी नहीं कर पाया ट्रंप प्रशासन

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन इस साल दूसरी बार एच 4 वीजा संबंधी अधिसूचना जारी नहीं कर पाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस साल दूसरी बार एच 4 वीजा संबंधी अधिसूचना जारी नहीं कर पाया ट्रंप प्रशासन

ट्रंप प्रशासन इस साल दूसरी बार एच 4 वीजा संबंधी अधिसूचना जारी नहीं कर पाया.

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन इस साल दूसरी बार एच 4 वीजा संबंधी अधिसूचना जारी नहीं कर पाया. यह अधिसूचना एच 1 बी वीजा धारकों के जीवनसाथी को एच4 वीजा के तहत मिली नौकरी करने की अनुमति को खत्म करने के प्रशासन के फैसले को अधिसूचित करने के लिए जारी होनी थी. गृह सुरक्षा मंत्रालय ने मार्च में एक अमेरिकी अदालत को सूचित किया था कि वह इस साल जून में एक नोटिस ऑफ प्रपोज्ड रूल मेकिंग (एनपीआरएम) जारी करने पर काम कर रहा है. जून के अंत में मंत्रालय ने एनपीआरएम जारी नहीं करने को लेकर कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया. इस नोटिस के जारी होने पर ओबामा शासन काल के फैसले को औपचारिक तौर पर पलटा जा सकता है जिसमें एच 1 बी वीजा धारकों के जीवनसाथियों को नौकरी करने की अनुमति दी गयी थी. मंत्रालय के अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि फिलहाल मेरे पास इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है. साथ ही अधिकारी ने कहा कि वह अटकल भी नहीं लगा सकते हैं कि इस संबंध में फैसला ले लिया गया है. इससे पहले मंत्रालय फरवरी में भी नोटिस जारी करने से चूक गया था. 

यह भी पढ़ें : इंडोनेशियाई नागरिकों को अब से मिलेगा 30 दिन का निशुल्क वीजा: पीएम मोदी

टिप्पणियां
गौरतलब है कि पिछले महीने ही खबर आई थी कि अमेरिका एच-1बी वीजा में कोई बड़ा बदलाव नहीं करने जा रहा है. इसकी जानकारी एक अमेरिकी अधिकारी ने दी थी. गौरतलब है कि अमेरिकी प्रशासन बीते कुछ समय से इमिग्रेशन सिस्टम में व्यापक बदलाव करने की योजना बना रहा है. इस तैयारी के बीच ही एच-1बी वीजा को लेकर यह खबर सामने आई है. अधिकारी के अनुसार एच-1बी वीजा में आगे कोई बड़ा बदलाव न करने पर विचार हो रहा है. उनके अनुसार एच -4 वीजा नीति में कुछ नया नहीं है. दिल्ली में अमेरिकी मिशन की उप प्रमुख (डीसीएम) मैरीके एल कार्लसन ने कहा कि कर्मचारी वीजा और कार्य करने की अनुमति देना देश का एक अहम निर्णय है. (इनपुट-भाषा) 


यह भी पढ़ें : भारतीय आईटी कंपनियों को एच-1बी वीजा मंजूरियों में 43 प्रतिशत की गिरावट
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement