NDTV Khabar

उत्तर कोरिया की धरती पर कदम रखने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने डोनाल्ड ट्रंप, किम जोंग-उन से की मुलाकात

हनोई में फरवरी में बेनतीजा रही शिखर वार्ता के बाद दोनों पहली बार आज मिलेंगे. पहली बार दोनों पिछले साल सिंगापुर में मिले थे. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर कोरिया की धरती पर कदम रखने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने डोनाल्ड ट्रंप, किम जोंग-उन से की मुलाकात

डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन से मुलाकात की तस्वीर

नई दिल्ली:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रविवार को उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन से मुलाकात प्योंगयांग में मुलाकात की. उत्तर कोरिया की धरती पर पहुंचने वाले वह पहले अमेरिकी राष्ट्रपति हैं. इस ऐतिहासिक क्षण के दौरान ट्रंप दक्षिण और उत्तर कोरिया को बांटने वाली कंक्रीट की सीमा पर पहुंचे, जहां किम उनका स्वागत करने आए और दोनों ने हाथ मिलाया. फिर दोनों ने साथ में उत्तर कोरियाई क्षेत्र की ओर रुख किया. ट्रम्प के उत्तर कोरियाई जमीन पर कदम रखते ही किम ने तालियां बजाईं और फिर एक बार दोनों ने हाथ मिलाया और तस्वीरें खिंचवाईं. इसके बाद दोनों फिर दक्षिण कोरिया की ओर बढ़े और वहां मौजूद पत्रकारों को संबोधित किया.

ट्रम्प ने कहा, ‘विश्व के लिए यह एक महान क्षण है और यहां आना मेरे लिए सम्मान की बात है. बहुत सी महान चीजें हो रही हैं.' ट्रम्प ने शनिवार को ही अचानक इस दौरे की जानकारी ट्विटर पर दी थी. हनोई में फरवरी में बेनतीजा रही शिखर वार्ता की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा था, ‘बस हाथ मिलाकर एक दूसरे का अभिवादन करेंगे क्योंकि हम वियतनाम के बाद से मिले नहीं हैं.'


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भड़के दलाई लामा, कहा- उनमें नैतिक सिद्धांत की कमी

बता दें, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन को असैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) में ऐतिहासिक मुलाकात के लिए न्योता दिया और कहा कि सीमा पर कदम रखने में उन्हें ‘‘कोई दिक्कत'' नहीं है. असैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) उत्तर और दक्षिण कोरिया को विभाजित करता है.

PM मोदी ने ट्रंप और शिंजो आबे के साथ की त्रिपक्षीय बैठक, बोले- भविष्य के लिये प्रतिबद्ध हैं ‘जय'

उन्होंने कहा था कि वह सीमा पर स्थित डीएमजेड में किम से मिलकर उनसे ‘हाथ मिलाना' और उन्हें ‘हेलो' कहना चाहेंगे. ट्रंप द्वारा टि्वटर पर दिए गए इस आमंत्रण से विश्लेषक आश्चर्यचकित हैं. ट्रंप ने ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन से टि्वटर पर चौंकाने वाला आमंत्रण दिया था और कहा, ‘यदि उत्तर कोरिया के अध्यक्ष इसे देखते हैं तो मैं उनसे महज हाथ मिलाने और ‘हेलो' कहने के लिए सीमा/डीएमजेड पर मिलूंगा.' उन्होंने बाद में कहा कि उन्हें किम के साथ उत्तर कोरिया में प्रवेश करने में कोई समस्या नहीं होगी. ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा था, ‘निश्चित तौर पर मैं करूंगा, ऐसा करने में मैं आनंदित महसूस करूंगा.'

टिप्पणियां

Video: भारत और अमेरिका के बीच हुई द्विपक्षीय वार्ता



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement