भारत के साथ व्यापार युद्ध गहराने की आशंका, चीन के सरकारी मीडिया ने चेताया

चीन की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के मुखपत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ में एक आलेख में चीन की कंपनियों से ‘भारत में निवेश करने के जोखिमों पर ​पुनर्विचार’ करने का आग्रह किया है.

भारत के साथ व्यापार युद्ध गहराने की आशंका, चीन के सरकारी मीडिया ने चेताया

फाइल फोटो

बीजिंग:

चीन के सरकारी मीडिया ने सोमवार को कहा कि भारत व चीन के बीच व्यापार युद्ध की आशंका गहराती नजर आ रही है. मीडिया का कहना है कि डोकलाम में सैन्य गतिरोध के बीच भारत ने 93 चीनी उत्पादों पर डंपिंगरोधी शुल्क लगा दिया है. चीन की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के मुखपत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ में एक आलेख में चीन की कंपनियों से ‘भारत में निवेश करने के जोखिमों पर ​पुनर्विचार’ करने का आग्रह किया है. इसके साथ ही इसमें भारत को आगाह किया गया है कि वह ‘अपने इन खराब फैसलों के संभावित परिणामों’ का सामना करने को तैयार रहे. आलेख के अनुसार चीन भारतीय उत्पादों पर प्रतिबंध लगाते हुए आसानी से बदले की कार्रवाई कर सकता है.

चीन स्थित भारतीय दूतावास के आंकड़ों के हवाले से अखबर की इस रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन को भारतीय निर्यात सालाना आधार पर 12.3 प्रतिशत घटकर 11.75 अरब डॉलर रहा जबकि चीन से भारत का आयात दो प्रतिशत बढ़कर 59 अरब डॉलर हो गया है. इस तरह से द्विपक्षीय व्यापार घाटा 47 अरब डॉलर भारत के प्रतिकूल है.

आलेख में कहा गया है‘ चीन व भारत के बीच व्यापार युद्ध की आशंका गहराती नजर आ रही है क्योंकि भारत ने पिछले बुधवार को चीन के 93 उत्पादों पर डंपिंगरोधी शुल्क लगा दिया.’ इसमें कहा गया है, ‘अगर भारत वास्तव में चीन के साथ व्यापार युद्ध शुरू करता है तो नि:संदेह चीन के आर्थिक हितों पर असर होगा लेकिन भारत के लिए भी प्रतिकूल परिणाम होंगे.’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)